आज यूपी समेत सात राज्यों को 34,676 करोड़ की सौगात देंगे पीएम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज आजमगढ़ से यूपी सहित देश के सात राज्यों को 34,676 करोड़ रुपये की 782 विकास परियोजनाओं की सौगात देंगे। इसमें रेलवे और बुनियादी ढांचों से संबंधित कई परियोजनाएं शामिल हैं। प्रधानमंत्री मंदुरी एयरपोर्ट आजमगढ़ और महाराजा सुहेलदेव राज्य विश्वविद्यालय का लोकार्पण करके जनसभा भी करेंगे।

प्रधानमंत्री रविवार की सुबह आजमगढ़ पहुंचेंगे। वहां विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करके जनसभा भी करेंगे। डीएम विशाल भारद्वाज ने बताया कि प्रधानमंत्री करीब सवा घंटे तक जिले में रहेंगे। पीएमओ से जारी सूची के अनुसार, प्रधानमंत्री यूपी के साथ ही महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, दिल्ली, पंजाब, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश की जनता को सौगात देंगे। नागरिक उड्डयन मंत्रालय की 9,804 करोड़ की 15 परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण होना हैं।

भारतीय रेलवे की 8,176 करोड़ की 11 परियोजनाएं भी शामिल हैं। पीएम जल शक्ति मंत्रालय की 1114 करोड़ की तीन परियोजनाओं का लोकार्पण होगा। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की पांच परियोजनाएं का लोकार्पण, शिलान्यास होगा। आवास और शहरी मंत्रालय की 264 करोड़ की दो परियोजनाओं का लोकार्पण होगा। ग्रामीण विकास मंत्रालय की 744 परियोजनाओं का लोकार्पण होना है। स्टेट सेक्टर की दो परियोजनाओं का लोकार्पण भी करेंगे।

आजमगढ़ से पूर्वांचल और बिहार के साथ दक्षिण भी साधेंगे पीएम मोदी
काशी, आजमगढ़ के दौरे से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूपी और बिहार के साथ ही दक्षिण भारत का राजनीतिक समीकरण साधेंगे। विकास का संदेश देंगे। 2019 के लोकसभा चुनाव में जिन सीटों पर भाजपा को हार का सामना करना पड़ा था, वहां की जनता से समर्थन मांगेंगे। गाजीपुर, मऊ की घोसी, आजमगढ़, लालगंज और जौनपुर में भी भाजपा की हार हुई थी। हालांकि भाजपा ने उपचुनाव में आजमगढ़ सीट जीत ली थी।

प्रधानमंत्री रविवार को आजमगढ़ जाएंगे और वहां से महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, दिल्ली, पंजाब, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश की जनता को विकास की सौगात देंगे। एयरपोर्ट का लोकार्पण करेंगे। साथ ही जनसभा करके लोकसभा चुनाव के लिए जनता से समर्थन मांगेंगे। आजमगढ़ में जनसभा का असर पूर्वांचल और बिहार की सीटों पर पड़ता है।

मिर्जापुर, आजमगढ़ और वाराणसी मंडल के दस जिलों से ही करीब 14 लोकसभा सीटें जुड़ी हैं। 2019 के चुनाव में भाजपा को नौ सीटें ही मिल पाई थीं। इस बार पार्टी बाजी पलटने के इरादे से चुनाव मैदान में उतर रही है। इसी का नतीजा है कि लोकसभा चुनाव के एलान से पहले ही आजमगढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनसभा कराई जा रही है। पार्टी प्रत्याशियों की पहली ही सूची में प्रधानमंत्री का नाम है। प्रधानमंत्री के काशी से चुनाव लड़ने का असर पूरे पूर्वांचल में जाता है।

E-Magazine