कर्ज से छुटकारा पाने के लिए व्यापारी ने खुद रची थी लूट की साजिश, तीन गिरफ्तार

[ad_1]

गाजियाबाद, 29 मार्च (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में पुलिस ने व्यापारी के साथ हुई लूट का खुलासा करते हुए व्यापारी और उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, व्यापारी ने अपने दो परिचितों के साथ मिलकर खुद ही अपने साथ लूट करवाई थी। पुलिस ने लूटे गए पैसे भी बरामद कर लिए हैं। लूट की घटना 27 मार्च को हुई थी।

पुलिस के मुताबिक, पुराने लिए गए कर्ज से छुटकारा पाने के लिए व्यापारी ने लूट की साजिश रची थी। आरोपियों ने सीसीटीवी से बचने के लिए शर्ट के ऊपर शर्ट पहनी थी। साथ ही हाथ पर बने टैटू को छिपाने के लिए पट्टी बांधी थी।

डीसीपी ट्रांस हिंडन निमिष पाटिल ने बताया कि गौरव शर्मा नाम के दिल्ली के स्टील फर्नीचर व्यापारी ने 27 तारीख को शिकायत दर्ज कराई कि साहिबाबाद क्षेत्र में मोहन नगर मेट्रो स्टेशन के पास दो बाइक सवारों ने उसे लूटा है। उसने पुलिस को बताया कि वह दिल्ली से दो लाख रुपए लेकर मेट्रो से आ रहा था और उसे यह पैसे राजनगर एक्सटेंशन में देने थे। इसी दौरान बाइक पर आए दो बदमाशों ने उससे यह रकम लूट ली।

पुलिस को शुरू से ही यह लूट की घटना संदिग्ध लग रही थी। इसके पीछे कई कारण थे। गौरव शर्मा राजनगर एक्सटेंशन से बहुत पहले ही मेट्रो से उतर गया था। साथ ही वीवीआईपी आगमन को लेकर सुरक्षा चाक-चौबंद थी।

पुलिस ने शुक्रवार को लूट का खुलासा करते हुए व्यापारी गौरव शर्मा, उसके साथी श्याम और आदेश शर्मा को गिरफ्तार कर लिया। तथाकथित लूटे गए दो लाख रुपये और लूट में इस्तेमाल बाइक भी बरामद कर ली। लूट के बाद गौरव ने एक लाख रुपए लूट करने वाले अपने दोनों जानकारों को दे दिए। साथ ही उसका प्लान था कि जिससे उसने उधार लिया है एक लाख रुपए वह उसे लौटा देगा।

–आईएएनएस

पीकेटी/एकेजे

[ad_2]

E-Magazine