पार्टी से हटाए गए युवा माकपा के पूर्व नेता को पुलिस सुरक्षा

तिरुवनंतपुरम, 28 जून (आईएएनएस)। कन्नूर में माकपा से बर्खास्त युवा नेता को केरल पुलिस नेे सुरक्षा प्रदान करने की घोषणा की है। युवा नेता नेे एक दिन पहले पार्टी के वरिष्ठ नेता पी. जयराजन के बेटे पर सोने की अवैध तस्करी करने वाले गिरोह को संरक्षण देने का आरोप लगाया था। जयराजन पूर्व विधायक और कन्नूर माकपा जिला समिति के सचिव हैं।

गुरुवार को मनु थॉमस, जिन्हें हाल ही में पार्टी की कन्नूर जिला समिति से हटाए गए युवा नेता मनु थॉमस ने एक प्रमुख मलयालम समाचार चैनल पर लाइव आकर जयराजन के बेटे जैन राज पर सोने के अवैध कारोबार में शामिल एक गिरोह को संरक्षण देने का आरोप लगाया था।

थॉमस ने यह भी कहा कि हाल तक वह पार्टी की युवा शाखा के प्रमुख थे और कन्नूर जिला समिति के सदस्य थे, लेकिन अपनी सदस्यता का नवीनीकरण न कराने के बाद अब वह पार्टी से बाहर हैं।

उन्होंने कहा कि कन्नूर में उनकी पार्टी में जो कुछ हो रहा है, उससे वह नाखुश हैं। बार-बार कहने के बावजूद किसी ने उनकी बातों पर ध्यान नहीं दिया।

पुलिस विभाग के उच्च अधिकारियों को खुफिया रिपोर्ट भेजे जाने के बाद थॉमस को सुरक्षा प्रदान करने का निर्णय लिया गया।

कन्नूर निवासी थॉमस अपने दोस्तों के साथ केक बनाने की फैक्ट्री चलाते हैं।

यह मुद्दा शुक्रवार को राज्य विधानसभा में भी उठाया गया। कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूडीएफ ने थॉमस द्वारा किए गए खुलासे पर स्थगन प्रस्ताव लाने की मांग की। पार्टी ने कहा कि चूंकि जयराजन केरल राज्य खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष हैं, इसलिए इस मुद्दे पर चर्चा की जरूरत है।

लेकिन कन्नूर से ही आने वाले विधानसभा अध्यक्ष ए.एन.शमसीर ने याचिका को खारिज कर दिया। इसके बाद यूडीएफ ने विपक्ष के नेता वी.डी. सतीशन के नेतृत्व में सदन से बहिर्गमन किया। उन्होंने कहा कि माकपा के कुछ नेताओं की अवैध गतिविधियों के बारे में वे जो कह रहे हैं, उसका अब थॉमस ने भी समर्थन किया है।

सतीशन ने कहा, “केरल माकपा आज उन लोगों का समर्थन कर रही है, जो सोने की तस्करी से लेकर ड्रग्स और माफिया का समर्थन करने जैसी सभी तरह की संदिग्ध गतिविधियों में शामिल हैं।”

इस बीच, कांग्रेस की कन्नूर जिला समिति ने शुक्रवार को थॉमस को पार्टी में शामिल होने का खुला निमंत्रण दिया। थॉमस को भाजपा से भी इसी तरह का निमंत्रण मिलने की बात कही जा रही है। यह घटनाक्रम शुक्रवार को दिल्ली में माकपा केंद्रीय समिति और पोलित ब्यूरो की तीन दिवसीय बैठक शुरू होने से ठीक पहले हुआ।

–आईएएनएस

सीबीटी/

E-Magazine