माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की मौत, प्रदेश में धारा 144 लागू

माफिया डॉन मुख्तार अंसारी बृहस्पतिवार देर रात मौत हो गई है। बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी को हार्ट अटैक आया था, जिसके बाद उसे बांदा मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया था। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया है। उनके इलाज के लिए 9 डॉक्टरों की टीम बुलाई गई थी। लेकिन जान नहीं बच पाई। पोस्टमार्टम के लिए लखनऊ से पांच डॉक्टरों की टीम रवाना हो गई है। आज सुबह 8 बजे पोस्टमार्टम किया जाएगा। पूरे प्रदेश में धारा 144 लागू कर दिया गया है। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

बेटे ने लगाया धीमा जहर देने का आरोप

मुख्तार अंसारी के बेटे उमर अंसारी जेल प्रशासन पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा, पूरा देश जानता है, मुख्तार अंसारी को धीमा जहर दिया जा रहा था। जिसकी वजह से उनकी मौत हुई। उन्होंने कहा, दो दिन पहले भी मैं मिलने आया था लेकिन इजाजत नहीं मिली।

रामगोपाल यादव ने उठाए सवाल

समाजवादी पार्टी के प्रधान सचिव राम गोपाल यादव ने मुख्तार अंसारी की मौत पर चिंता व्यक्त की है। उन्होंने एक्स पर लिखा, “पूर्व विधायक मुख़्तार अंसारी की जिन परिस्थितियों में मृत्यु हुई वह अत्यधिक चिंताजनक है। उन्होंने न्यायालय में अर्ज़ी देकर पहले ही ज़हर के द्वारा अपनी हत्या की आशंका व्यक्त की थी। मौजूदा व्यवस्था में तो न जेल में कोई सुरक्षित , न पुलिस कस्टडी में और न अपने घर में।प्रशासनिक आतंक का माहौल पैदा करके लोगों कोमुँह बंद रखने को विवश किया जा रहा है।क्या मुख़्तार अंसारी द्वारा न्यायालय में दी गयी अर्ज़ी के आधार पर कोई न्यायिक जाँच के आदेश करेगी यूपी सरकार ?”

E-Magazine