वजन कम न होने पर भी व्यायाम करते रहें, स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद : विशेषज्ञ

नई दिल्ली, 14 मई (आईएएनएस)। क्या आप भी उनमें से हैं जो वजन कम नहीं होने पर वर्कआउट करना बंद कर देते हैं? तो मानिए कि आप बिल्‍कुल गलत हैं। एक शीर्ष न्यूरोलॉजिस्ट के अनुसार, व्यायाम समग्र स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है, भले ही यह आपको वजन कम करने में मदद करे या न करे।

इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल के सुधीर कुमार ने इंटरनेशनल जर्नल ऑफ एनवायर्नमेंटल रिसर्च एंड पब्लिक हेल्थ के हालिया अध्ययन का हवाला देते हुए यह बात कही।

अमेरिका में हार्वर्ड विश्‍वविद्यालय के शोधकर्ताओं के नेतृत्व में किए गए शोध से पता चला है कि शारीरिक गतिविधि मोटे वयस्कों के बीच कई महत्वपूर्ण स्वास्थ्य स्थितियों के लिए फायदेमंद है।

सुधीर ने एक्‍स पर कहा, “यदि व्यायाम से वजन कम नहीं होता है, तो क्या यह बेकार है? इसका उत्तर ‘नहीं’ है।”

हैदराबाद स्थित न्यूरोलॉजिस्ट ने कहा कि उनसे परामर्श लेने वाले कुछ लोग व्यायाम करने के बावजूद महत्वपूर्ण वजन घटाने की कमी की रिपोर्ट करते हैं।

उन्होंने कहा, “वे उम्मीद खो देते हैं और व्यायाम छोड़ना चाहते हैं। मेरी उन्हें सलाह है कि हार न मानें और व्यायाम जारी रखें।”

डॉक्टर ने कहा, “वजन कम करने की इच्छा लोगों को व्यायाम करने के लिए मुख्य प्रेरकों में से एक है, लेकिन यह व्यायाम करने का एकमात्र उद्देश्य नहीं होना चाहिए।”

इसके अलावा, उन्होंने बताया कि नियमित व्यायाम (वजन घटाने के बावजूद) से जुड़े कुछ स्वास्थ्य संबंधी लाभों में “इंसुलिन संवेदनशीलता में वृद्धि, रक्तचाप में कमी, एचबीए1सी, सीरम ट्राइग्लिसराइड्स, एचडीएल या अच्छे कोलेस्ट्रॉल में वृद्धि, नींद की गुणवत्ता में सुधार शामिल हैं। इससे अवसादग्रस्तता के लक्षण, मधुमेह, स्ट्रोक और दिल के दौरे का कम जोखिम, कार्डियोरेस्पिरेटरी फिटनेस में सुधार और मांसपेशियों की ताकत में सुधार होता है।

सुधीर ने कहा, “इनके परिणामस्वरूप समय से पहले मृत्यु का जोखिम कम होता है, स्वास्थ्य देखभाल संबंधी खर्च कम होता है और स्वस्थ जीवन काल में वृद्धि होती है।”

उन्होंने कहा, “अगर वजन कम नहीं दिख रहा है तो व्यायाम करना बंद न करें। स्वस्थ आहार (कार्बोहाइड्रेट प्रतिबंध) वजन घटाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।”

–आईएएनएस

एमकेएस/एसजीके

E-Magazine