आईओसी अध्यक्ष, फिडे अधिकारी पुणे में 'चेस फॉर फ्रीडम' कॉन्फ्रेंस में लेंगे हिस्सा

चेन्नई, 24 मई (आईएएनएस)। इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (आईओसी) के चेयरमैन श्रीकांत माधव वैद्य, एक शतरंज ग्रैंडमास्टर, एक जेल अधिकारी और कई देशों से पूर्व कैदी अगले महीने पुणे में ‘चेस फॉर फ्रीडम’ कॉन्फ्रेंस को सम्बोधित करेंगे। अंतर्राष्ट्रीय शतरंज महासंघ (फिडे) ने यह जानकारी दी है।

फिडे ने कहा कि इस कॉन्फ्रेंस का मकसद सुधार गृहों में शतरंज का उपयोग करना है।

फिडे आईओसी के सहयोग से इस कॉन्फ्रेंस को पुणे में 19-21 जून तक आयोजित कर रहा है। इसकी मेजबानी अखिल भारतीय शतरंज महासंघ और महाराष्ट्र शतरंज संघ करेंगे।

वैद्य भारत में ‘चेस फॉर फ्रीडम’ परियोजना पर बोलेंगे।

इंडियन ऑयल अपनी ‘परिवर्तन – प्रिजन टू प्राइड’ पहल के तहत विभिन्न भारतीय जेलों में कैदियों को शतरंज, बास्केटबॉल, बैडमिंटन, वॉलीबॉल और कैरम जैसे विभिन्न खेलों में प्रशिक्षण कार्यक्रम की सुविधा प्रदान करता है।

इस पहल का उद्देश्य जेल के कैदियों के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में मदद करना और सुधार करना है।

दिलचस्प बात यह है कि पिछले साल पुणे जेल की युवा शतरंज टीम ने फिडे और कुक काउंटी (शिकागो) शेरिफ कार्यालय द्वारा कैदियों के लिए आयोजित इंटरकांटिनेंटल ऑनलाइन शतरंज चैंपियनशिप में खिताब जीता था।

फिडे के अनुसार, सम्मेलन के पहले दिन, प्रतिभागी स्थानीय यरवदा जेल का दौरा करेंगे, कैदियों के साथ शतरंज खेलेंगे और जेल अधिकारियों की प्रस्तुति सुनेंगे।

सम्मेलन में चर्चा किए जाने वाले कुछ विषयों में जेलों में प्रतिभाओं का समर्थन करना शामिल है; जिसमें जेलों में शतरंज की पहेलियां, और बाहर के जीवन में उनकी प्रासंगिकता; पूर्व कैदियों की व्यक्तिगत कहानियां; जेलों में स्वतंत्रता के लिए शतरंज को लागू करने के कदम, आदि शामिल हैं।

–आईएएनएस

आरआर/एसकेपी

E-Magazine