गोरखपुर: सोशल मीडिया पर की दोस्ती, यूक्रेनी महिला ने ठग लिए 4 लाख

दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के छात्र से सोशल मीडिया पर यूक्रेनी महिला बन जालसाज ने करीब चार लाख रुपये ठग लिए। एयरपोर्ट पर गिफ्ट के पकड़े जाने पर ईडी और सीबीआई का डर दिखाकर 8.82 लाख रुपये की और मांग होने पर उसे संदेह हुआ। पीड़ित छात्र ने एसपी सिटी से मिलकर रकम वापस कराने की गुहार लगाई है।

जानकारी के अनुसार, कुशीनगर जिले का रहने वाला छात्र गोरखपुर विश्वविद्यालय के एमएससी कृषि में द्वितीय वर्ष में पढ़ाई करता है। कुछ दिन पहले फेसबुक पर एक महिला का फ्रेंड रिक्वेस्ट आया। जिसे वह स्वीकार कर उससे चैट करने लगा।

चैटिंग के दौरान उसने बताया कि वह यूक्रेन की सेना में सैनिक है। कुछ दिन चैट के बाद उसने गिफ्ट भेजने की जानकारी दी। बातचीत में उसने मोबाइल नंबर भी ले लिया।

दो दिन बाद उनके मोबाइल पर अनजान नंबर से फोन आया।

फोन करने वाले ने बताया कि मुंबई एयरपोर्ट पर आपका गिफ्ट पार्सल आया है। उसे छुड़ाने के लिए 1000 डालर यानि 83,300 रुपये भेजने होंगे। वह झांसे में आकर उसके नंबर पर रुपये भेज दिया। इसके बाद फिर दूसरे दिन उसी नंबर से फोन आया।

उसने गिफ्ट के आयकर विभाग द्वारा पकड़े जाने की जानकारी देकर टैक्स के रूप में तीन लाख 33 हजार 500 रुपये की मांग की। जालसाज के द्वारा बताया कि गिफ्ट में कीमती सामान के साथ कुछ डॉलर भी है। वह गिफ्ट कीमती जानकर अपने दोस्तों व परिचितों से कर्ज लेकर रुपये भेज दिया।

इसके बाद भी उसने गिफ्ट नहीं भेजा। दूसरे दिन गिफ्ट के पकड़े जाने और सीबीआई और ईडी की जांच कर डर दिखाकर उससे 8.82 लाख रुपये की मांग की जाने लगी। इसके बाद उस पर संदेह हुआ।

ठगी की जानकारी होने पर पीड़ित ने एसपी सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई को प्रार्थनापत्र देकर आपबीती बताई और ठगी की रकम वापस दिलाने की गुहार लगाई। एसपी सिटी के निर्देश पर साइबर सेल ने जांच शुरू कर दी है।

ऐसे करते हैं जालसाजी
एसपी सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई ने बताया कि जालसाज फेसबुक, इंस्टाग्राम, व्हाट्सएप पर फेक प्रोफाइल बनाकर लोगों से दोस्ती करते हैं। वह खुद को अमेरिका, इंग्लैंड, यूक्रेन आदि देशों का नागरिक बताकर भारतीय युवक-युवतियों से दोस्ती करते हैं।

बाद में महंगे गिफ्ट भेजने का झांसा देते हैं। गिफ्ट आने पर कस्टम अधिकारी, इनकम टैक्स अधिकारी बनकर अधिक कैश या कीमती गिफ्ट होने की बात बताकर कस्टम ड्यूटी व इनकम टैक्स जमा करने व मनी लांड्रिंग के नाम पर लोगों से ठगी करते हैं।

आए दिन ऐसे मामले सामने आ रहे हैं। सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर दोस्त बनाते और अपनी निजी जानकारी साझा करते समय लोगों को विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर तमाम ऑफर आते हैं। साथ ही घर बैठे लाखों रुपये कमाने का झांसा भी जालसाज देते हैं। इनके झांसे में न आएं।

यहां करें शिकायत
अगर आप के साथ साइबर ठगी हो गई तो 1930 हेल्पलाइन पर कॉल कर तत्काल शिकायत दर्ज कराएं।
शिकायत करने के बाद ऑनलाइन फ्रॉड की ट्रांजेक्शन आइडी के जरिए लेनदेन को रोक दिया जाएगा।

E-Magazine