पाक राष्ट्रपति के रूप में जरदारी का संभावित चुनाव 'संविधान का उल्लंघन' : पीटीआई

[ad_1]

इस्लामाबाद, 9 मार्च (आईएएनएस)। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के चेयरमैन बैरिस्टर गौहर अली खान ने शनिवार को कहा कि आसिफ अली जरदारी का देश के राष्ट्रपति के रूप में संभावित चुनाव “संविधान का उल्लंघन” है।

डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, गौहर अली खान ने इस्लामाबाद में मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा, “असंवैधानिक तरीके से संवैधानिक भूमिका निभाना संविधान का उल्लंघन है।”

पीपीपी और पीएमएल-एन पर परोक्ष हमला करते हुए उन्होंने कहा कि पहले दो परिवारों का देश के संसाधनों पर नियंत्रण हुआ करता था और अब, ये दो परिवार देश की लोकतांत्रिक संस्थाओं पर भी नियंत्रण कर रहे हैं।

इससे पहले, नेशनल असेंबली के पीटीआई सदस्य अमीर डोगर ने कहा कि आसिफ अली जरदारी को “आज देश पर थोपा जा रहा है”।

अमीर डोगर ने पार्टी के एक्स हैंडल पर पोस्ट किया, “जिन्होंने हमारा जनादेश चुराया है, वे भ्रष्ट हैं। उनके सबसे बड़े राजा आसिफ अली जरदारी को आज इस देश पर थोपा जा रहा है।”

पाकिस्तान में राष्ट्रपति पद के लिए पीपीपी और पीएमएल-एन के संयुक्त उम्मीदवार आसिफ अली जरदारी और सुन्नी इत्तेहाद काउंसिल के उम्मीदवार महमूद खान अचकजई मैदान में हैं।

पाकिस्तान में 8 फरवरी को आम चुनाव हुए थे, जिसमें धांधली और छिटपुट हिंसा के आरोप लगे थे।

–आईएएनएस

एसकेपी/

[ad_2]

E-Magazine