माहिष्मती सिंहासन के लिए लड़ाई यहीं नहीं होगी खत्म, फिर लौटेगा ‘बाहुबली’

एसएस राजामौली की ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘बाहुबली’ की रिलीज के इतने साल बीतने के बाद भी लोगों में इस फिल्म का क्रेज बरकरार है। ‘बाहुबली: द बिगनिंग’ के बाद ‘बाहुबली: द कन्क्लूजन’ ने भी दुनियाभर में खूब नोट छापे। इन फिल्मों की सक्सेस के बाद एसएस राजामौली बाहुबली कहानी को अनोखे अंदाज में ओटीटी पर पेश करेंगे।

राजामौली ने शुरू किया ‘बाहुबली: क्राउन ऑफ ब्लड’ का प्रमोशन
प्रभास (Prabhas) और राणा दग्गुबाती स्टारर ‘बाहुबली’ की सफलता के बाद एसएस राजामौली ‘बाहुबली: क्राउन ऑफ ब्लड’ लेकर आ रहे हैं। कुछ दिन पहले उन्होंने इसका एलान किया था। यह एनिमेशन सीरीज होगी। मंगलवार 7 मई को हैदराबाद में एसएस राजामौली ने इसका प्रमोशन किया। इस दौरान उन्होंने एक ऐसी बात बताई, जो फैंस की खुशी को दोगुना कर सकती है।

राजामौली ने बताया कि क्यों उन्होंने बाहुबली फिल्म की कहानी को एनिमेशन के तौर पर प्रेजेंट किया। उन्होंने कहा कि इंडियन फिल्ममेकर्स को एनिमेशन को कहानी बताने के सुनहरे मौके के तौर पर देखना चाहिए। उन्होंने बताया कि बाहुबली का गेम, वीआर फिल्म और इसे एक सीरीज के तौर पर पेश करने की भी प्लानिंग की गई, लेकिन कुछ काम नहीं आया। अंत में एनिमेशन बनाकर बाहुबली की कहानी को दिखाने का फैसला किया।

‘बाहुबली’ की आएगी और भी कहानी
बाहुबली फिल्म्स के प्रोड्यूसर शोबू यार्लागद्दा ने इस दौरान एक बड़ी हिंट दी। उन्होंने कहा, ”बाहुबली फिल्में पूरे पार्ट का एक हिस्सा हैं। इसके एक सीरीज जैसी फ्रेंचाइजी बनने के लिए और भी पार्ट्स हैं। यह ऐसी फिल्म है, जो बच्चों के लिए न हो, लेकिन एडल्ट एंटरटेनमेंट यानी बड़े जरूर देख सकते हैं। हम चाहते थे कि बाहुबली की दुनिया से लोग हर अलग तरीके से जुड़ें। इस फिल्म से जुड़ी और भी चीजें दिखाने के लिए हमारे पास अभी बहुत कुछ बाकी है।”

फिर होगी ताज के लिए लड़ाई
‘बाहुबली: क्राउन ऑफ ब्लड’ डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर 17 मई से शुरू हो रही है। एक बार फिर माहिष्मती सिंहासन के लिए भल्लालदेव, बाहुबली से लड़ते नजर आएंगे। एक बार फिर ‘महेंद्र बाहुबली’ अपने पिता ‘अम्रेंद्र बाहुबली’ (दोनों रोल में प्रभास) की मौत का बदला लेने के लिए भल्लालदेव (राणा दग्गुबाती) का खून बहाते देखे जाएंगे।

E-Magazine