अखिलेश यादव ने सिद्धबाबा का किया दर्शन-पूजन

समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष और कन्नौज लोकसभा क्षेत्र के उम्मीदवार अखिलेश यादव ने अपने चुनावी दौरे में यहां सिद्ध बाबा गौरीशंकर महादेव मंदिर पहुंचकर दर्शन एवं पूजन किया। उसके बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओं ने गंगाजल से मंदिर की धुलाई की। सपा ने भाजपा कार्यकर्ताओं के ऐसा करने पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। यादव ने भाजपा द्वारा मंदिर धोने के संबंध में प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि भाजपा ने जिस तरह मंदिर धोने का काम किया है वैसे ही जनता वोट डाल डालकर ऐसा धोएगी कि वह दोबारा नहीं लौटेगी। उन्होंने कहा ”पीडीए (पिछड़ा, दलित, अल्पसंख्यक) इस बार इन्हें धोने जा रहा है। लगातार चुनावों में हार होते देख भाजपा के लोग ऐसी ओछी हरकत कर रहे हैं।

अखिलेश ने सिद्धबाबा का पूजन किया, भाजपा कार्यकर्ताओं ने मंदिर की धुलाई की
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, यादव ने सोमवार को अपने कन्नौज दौरे में हर्ष कालीन सिद्ध पीठ बाबा गौरी शंकर महादेव मंदिर पहुंच कर भोले बाबा का विधिवत दर्शन एवं पूजन किया और बाबा का आशीर्वाद मांगा। एक सपा कार्यकर्ता ने बताया कि पूजा-अर्चना कन्नौज के विद्वान आचार्य पं. करूणा शंकर ने सम्पन्न करायी। उनके अनुसार उस समय मंदिर के पुजारी मथुरा प्रसाद एवं अन्य आचार्य मौजूद थे, जिन्होने मन्त्रोचार किया। सोमवार की शाम को 6 बजे के बाद भाजपा नगर अध्यक्ष शिवेन्द्र कुमार कुछ कार्यकर्ताओं के साथ नारेबाजी करते हुए मंदिर पहुंचे और उन्होंने पानी में गंगाजल मिलाकर मंदिर परिसर को धोया। उनका कहना था कि दूसरे धर्म के लोग जूते चप्पल पहन कर मंदिर परिसर में घूमे, इसलिए परिसर अपवित्र हो गया।

जानिए, क्या कहना है भाजपा नगर अध्यक्ष शिवेंद्र कुमार?
भाजपा नगर अध्यक्ष शिवेंद्र कुमार ने बाबा गौरी शंकर मंदिर में गंगाजल से की गई धुलाई के संबंध में कहा कि ”अखिलेश यादव सोमवार को मंदिर में कुछ मुस्लिम युवकों के साथ आए थे और गैर सनातनी लोग मंदिर में जूते चप्पल पहने अंदर घुस गए, जिससे मंदिर अपवित्र हो गया। उन्होंने कहा  कि इसके बाद गंगा जल से मंदिर को धोकर पवित्र किया गया है। हालांकि भाजपा जिलाध्यक्ष वीर सिंह भदौरिया ने इस मामले में पूछे जाने पर कहा कि उन्हें मंदिर धोए जाने के सम्बंध में कोई जानकारी नहीं है। उधर, बाबा गौरी शंकर मंदिर कमेटी के अध्यक्ष राजेश श्रीवास्तव ने कहा कि मंदिर धुलाई मामले में कमेटी की कोई भूमिका नहीं है, कुछ लोगों ने इसे राजनीतिक रंग देने की कोशिश की है।

सोशल मीडिया पर इस मामले को लेकर तीखी प्रतिक्रिया शुरू
बताया जा रहा है कि  मंदिर के पुजारी मथुरा प्रसाद ने कहा कि मंदिर परिसर की धुलाई भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा की गई, मंदिर कमेटी का धुलाई से कोई लेना देना नहीं है। सपा के मुख्य जिला प्रवक्ता विजय द्विवेदी ने आरोप लगाया कि कन्नौज में अखिलेश यादव को मिल रहे भारी जनसमर्थन से भाजपाई बौखलाने लगे हैं। उन्होंने कहा कि वे (भाजपा) भगवान राम और शिव को अपनी जागीर समझने लगे हैं। बाबा गौरी शंकर मंदिर की धुलाई करके भाजपाइयों ने ओछी मानसिकता का परिचय दिया है। सोशल मीडिया पर भी इस मामले को लेकर तीखी प्रतिक्रिया शुरू हो गयी है।

E-Magazine