सपा गुंडा, माफिया पैदा करने की फैक्ट्री : केशव प्रसाद मौर्य

लखनऊ, 13 अप्रैल (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने शनिवार को विपक्ष पर बड़ा हमला बोला। उन्होंने कहा कि सपा गुंडा, माफियाओं को पैदा करने की फैक्ट्री है। इनके मुखिया अखिलेश के तीन यार आजम, अतीक और मुख्तार हैं।

शनिवार को भाजपा मुख्यालय पर हुई प्रेस वार्ता में केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव पिछड़ा, दलित और अल्पसंख्यक के विरोधी हैं। इनका पीडीए परिवार डिवेलप्मेंट अथॉरिटी है। इंडी गठबंधन के सभी नेता एक दूसरे के परिवारों का ही हित साधने में बिजी हैं। इनकी सरकार में सर्वाधिक उत्पीड़न पिछड़ों, दलितों का ही हुआ है। इनकी यारी गुंडों और माफियाओं से ही है।

मौर्य ने कहा, अब यूपी में गुंडई के नाते पलायन की समस्या खत्म हो गई है। 2017 में राज्य में भाजपा के सत्ता में आने के बाद, “निर्दोष लोगों“ के बजाय “अपराधी और माफिया तत्व“ राज्य छोड़ रहे हैं। अब प्रदेश में दंगे नहीं उत्सव मनाये जाते हैं, लेकिन प्रदेश की जनता 2012-17 के बीच सपा की शागिर्दगी में हुए हज़ार दंगों को भूली नहीं है। वह इस चुनाव में सपा और उसके इंडी पार्टनर्स को एक बार फिर सबक सिखाएगी।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अमन चैन क़ायम है, मोदी जी के काम का जादू प्रदेश की जनता के बीच मज़बूती से क़ायम है। उन्हें देवतुल्य जनता का भरपूर आशीर्वाद प्राप्त है।

मौर्य ने कहा, इन्होंने कारसेवकों पर गोली चलवाई फिर भी राम मंदिर ट्रस्ट ने उन्हें राम लला के विग्रह की स्थापना कार्यक्रम में उन्हें निमंत्रित किया। उन्होंने न्योते का अनादर किया, सरकार ने विधायकों को रामलला के दर्शन के लिए ले चलने की व्यवस्था की थी। लेकिन जब दर्शन के लिए जाने की बात आई तो सपा प्रमुख का फ़ोन ही ऑफ हो गया। इन्होंने तो दर्शन की अभिलाषा रखने वाले विधायकों को भी फोन कर जाने से मना कर दिया।

उन्होंने कहा कि सपा प्रमुख की लाइन लेंथ दोनों ही बिगड़ी हुई है। वे पवेलियन में ही बैठे रहना चाहते हैं और परिवारजनों को मैदान में भेजकर जल्दी आउट भी कराना चाहते हैं। चाचा से भी मेल नहीं हो पा रहा है। अखिलेश का मनोबल टूट चुका है और जनता ने उन्हें अभी से हारा हुआ घोषित कर दिया है। इसलिए वे अनर्गल प्रलाप में अपना समय काट रहे हैं। इसलिए अखिलेश चुनाव लड़ नहीं रहे हैं, वे हिम्मत हार चुके हैं। उनके मन में लगातार हार से डर बैठ गया है।

मौर्य ने कहा कि जनता अखिलेश के गुंडाराज, दंगा राज, माफिया राज की वापसी नहीं होने देगी। जनता ने 2014 से ही अपना मन बनाया हुआ है। जो 24 में अपनी वापसी का दिवास्वप्न देख रहे हैं उनकी वापसी 2047 में भी नहीं होने वाली है। उत्तर प्रदेश में भाजपा और मोदी जी की लहर है। जनता के आशीर्वाद से मोदी जी की सरकार बनने जा रही है। यूपी की सभी सीटों पर कमल खिलने जा रहा है। पहले-दूसरे चरण के बाद भाजपा का विजय रथ जनता के आशीर्वाद से पूरे प्रदेश में अपना परचम लहराएगा।

उन्होंने कहा कि अहंकारी गठबंधन के वे लोग 12 लाख करोड़ रुपये के घोटालों और भ्रष्टाचार में शामिल हैं। सभी भ्रष्टाचारी आपस में मिलकर रैली निकाल रहे हैं, भ्रष्टाचारियों के लिए मौन व्रत रख रहे हैं। मोदी जी अपनी बात पर कायम हैं, 2014 में उन्होंने कहा था कि जिन्होंने भ्रष्टाचार किया है वे जेल जाएंगे और 2024 में भी वह यही बात कह रहे हैं। विपक्ष का लक्ष्य अपने परिवार के लोगों को मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री बनाना है।

–आईएएनएस

विकेटी/एसकेपी

E-Magazine