नेपोटिज्म पर राघव जुयाल ने तोड़ी चुप्पी, कहा- 'मैं आउटसाइडर का सबसे बड़ा उदाहरण हूं…'

मुंबई, 28 जून (आईएएनएस)। बॉलीवुड में एक शब्द को लेकर अक्सर चर्चा और विवाद होता रहता है और यह शब्द है- ‘नेपोटिज्म’… इस पर प्रियंका चोपड़ा, कंगना रनौत, कृति सेनन, राजकुमार राव जैसे कई बड़े स्टार्स ने अपनी राय रखी हैं, इस कड़ी में अब एक्टर और डांसर राघव जुयाल ने भी अपनी चुप्पी तोड़ी।

राघव ने कहा, ”मैं नेपोटिज्म में विश्वास नहीं करता। मेरे लिए, ऐसी कोई चीज मौजूद नहीं है। मैं आउटसाइडर का सबसे बड़ा उदाहरण हूं] जिसे धर्मा प्रोडक्शंस में काम करने का मौका मिला। यह सब कड़ी मेहनत से हुआ है। लोगों को अपने काम पर फोकस करना चाहिए। देर-सबेर ही सही, वे अपने लक्ष्य को हासिल करेंगे।”

बॉलीवुड में नेपोटिज्म का मुद्दा तब छिड़ा, जब बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने 2017 में कॉफी विद करण शो में होस्ट करण जौहर को नेपोटिज्म का किंग कहा था।

वहीं राघव की बात करें तो वह इन दिनों फिल्म ‘किल’ को लेकर चर्चाओं में हैं। इसमें वह खतरनाक विलेन फानी का किरदार निभा रहे हैं।

आईएएनएस से बात करते हुए राघव ने कहा कि किसी ने भी नहीं सोचा था कि वह इस तरह का क्रूर किरदार निभाएंगे।

एक्टर ने कहा, “यह मेरे करियर में पूरी तरह से 180 डिग्री का बदलाव है, इसको लेकर मैं काफी एक्साइटेड हूं। फानी कोई आम खलनायक नहीं है, वह बेरहम है और ज्यादा खतरनाक है।”

‘किल’ को हाई-ऑक्टेन एक्शन फिल्म माना जा रहा है। इसे करण जौहर और गुनीत मोंगा ने मिलकर प्रोड्यूस किया है।

फिल्म पांच जुलाई को रिलीज होगी।

राघव के बारे में बात करें, तो उनको डांस मूव्स के लिए प्यार से ‘किंग ऑफ स्लो मोशन’ कहा जाता है। उन्होंने ‘डांस इंडिया डांस 3’ से पहचान बनाई। बाद में वे ‘डांस इंडिया डांस लिटिल मास्टर्स 2’ और ‘डांस के सुपरकिड्स’ में कैप्टन के रूप में दिखाई दिए।

2016 में, उन्होंने स्टंट-बेस्ड रियलिटी शो ‘फियर फैक्टर: खतरों के खिलाड़ी 7’ में हिस्सा लिया, जिसे एक्टर अर्जुन कपूर ने होस्ट किया था।

राघव ने 2014 में ‘सोनाली केबल’ से अपनी फिल्मी करियर की शुरुआत की और उसके बाद से ‘एबीसीडी 2’, ‘नवाबजादे’, ‘स्ट्रीट डांसर 3डी’, ‘बहुत हुआ सम्मान’ और ‘किसी का भाई किसी की जान’ जैसी फिल्मों में काम किया।

–आईएएनएस

पीके/सीबीटी

E-Magazine