नोएडा: बीटेक के छात्र ने फंदा लगाकर दी जान

नोएडा में आत्महत्या के दो मामले सामने आए हैं। एक मामले में बीटेक के छात्र और दूसरे मामले में एक 40 साल के व्यक्ति ने फंदा लगाकर जान दे दी।

नोएडा में अलग-अलग स्थानों पर बीटेक छात्र समेत दो लोगों ने पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। रायपुर के पीजी और चोटपुर गांव में हुई दोनों घटनाओं में सुसाइड नोट नहीं मिले हैं। पुलिस मामले की जांच में जुटी है जिसके बाद ही घटनाओं का पूरा खुलासा हो पाएगा।

उत्तराखंड का कहने वाला था आयुष प्रताप सिंह
मूल रूप से उत्तराखंड के उधम सिंह नगर निवासी आयुष प्रताप सिंह सेक्टर-125 स्थित एमिटी विश्वविद्यालय में बीटेक द्वितीय वर्ष का छात्र था। वह रायपुर गांव स्थित पीजी में अकेला रहता था।

शुक्रवार शाम को पीजी संचालक ने पुलिस को सूचना दी कि आयुष ने काफी देर से अंदर से कमरा बंद कर रखा है। दरवाजा तोड़ने पर कमरे में आयुष का शव पंखे से लटका दिखा। सूचना मिलते ही परिजन नोएडा आ गए हैं। पुलिस पूछताछ में छात्र के दोस्तों ने बताया कि आयुष कुछ दिनों से तनाव में था। पुलिस उसके मोबाइल की जांच कर रही है।

दूसरी घटना में 40 साल के व्यक्ति ने की आत्महत्या
वहीं, चोटपुर कॉलोनी निवासी राजीव (40) ने अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। राजीव पत्नी और साले के साथ रहते थे। घटना के समय राजीव की पत्नी और पत्नी का भाई किसी काम से बाहर गए थे। कुछ देर बाद जब वह लौटे तो उन्हें राजीव फांसी के फंदे पर लटका दिखा।

E-Magazine