अलग-अलग भाषाओं में सुन सकेंगे उत्तर प्रदेश विधानसभा की कार्यवाही : महाना

[ad_1]

लखनऊ, 29 मार्च (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने कहा है कि विधानसभा की कार्यवाही को अलग-अलग भाषाओं में सुनने के लिए इंटरप्रिटेशन सिस्टम भी लगाया जाएगा। यह सुविधा दर्शकदीर्घा और राज्यपाल दीर्घा में आने वाले मेहमानों को भी दी जाएगी।

विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना शुक्रवार को विधानसभा अध्यक्ष के रूप में दो साल का कार्यकाल पूरा होने पर अपनी उपलब्धि बता रहे थे। उन्होंने कहा कि विधानसभा की कार्यवाही अलग-अलग भाषाओं में सुनने का अवसर मिलेगा। विधानसभा की अलग-अलग समितियों के लिए एक हाईटेक बैठक कक्ष का निर्माण किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष सतीश महाना को सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों की विधायिकाओं के सदस्यों के प्रशिक्षण के लिए नामित किया गया है। जल्द ही वह इस काम की शुरुआत करेंगे। इसके लिए यूपी विधानसभा की तरफ से एक प्रारूप बनाया जाएगा। शुक्रवार को अपने दो साल का कार्यकाल पूरा होने पर आयोजित प्रेसवार्ता में उन्होंने विधानसभा की भविष्य की कार्ययोजना साझा की।

उन्होंने बताया कि सभी विधानसभा अध्यक्षों और मुख्यमंत्रियों का जीवन परिचय आम लोगों तक पहुंच सके, इसके लिए विधान भवन के राजर्षि पुरुषोत्तम दास टंडन हॉल में डिजिटल कम्युनिकेशन सिस्टम लगाया जाएगा। इसमें सभी विधानसभा अध्यक्षों और मुख्यमंत्रियों का जीवन परिचय शामिल होगा।

उन्होंने बताया कि विधायकों का संवाद विभिन्न क्षेत्रों के वरिष्ठ लोगों से कराया जाएगा। जिससे उन्हें एक बेहतर अनुभव मिल सके। इसके तहत चिकित्सक, इंजीनियर, विश्वविद्यालय के कुलपति और प्रोफेसर, कॉरपोरेट समूह के प्रतिनिधियों के साथ विधायकों का संवाद कराया जाएगा। इसके अलावा युवा संसद का भी आयोजन किया जाएगा जिससे युवाओं का लोकतांत्रिक प्रणाली में विश्वास बढ़े और उन्हें विधायिका की जानकारी हो।

–आईएएनएस

विकेटी/एकेजे

[ad_2]

E-Magazine