ईरान ने इजराइल पर किया ड्रोन, मिसाइल से हमला

यरूशलम, 14 अप्रैल (आईएएनएस)। ईरान ने बैलिस्टिक मिसाइल और ड्रोन से शनिवार रात और रविवार तड़के इजराइल पर हमला किया जिसके बाद पूरे इजरायल में हवाई हमले की चेतावनी जारी कर दी गई।

हमले मुख्य रूप से यरूशलेम, दक्षिण में नेगेव रेगिस्तान और डेड सी, उत्तर में इजरायली-कब्जे वाले गोलन हाइट्स और साथ ही कब्जे वाले वेस्ट बैंक में किए गए।

इज़राइल रक्षा बल (आईडीएफ) के प्रवक्ता डैनियल हगारी ने एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान पुष्टि की कि इजरायल पर ईरान से बैलिस्टिक मिसाइलों और ड्रोन से हमला किया गया है। उन्होंने कहा, हवाई रक्षा प्रणालियों ने कुछ मिसाइलों को रोक दिया है।

इज़राइल के कान टीवी समाचार ने बताया कि लॉन्च किए गए लगभग 400-500 में से लगभग 100 ड्रोन को अमेरिका, जॉर्डन और ब्रिटिश सेनाओं सहित सहयोगी देशों द्वारा इजराइल पहुंचने से पहले ही रोक दिया गया।

इज़राइल की बचाव सेवा ने एक बयान में कहा कि नेगेव के बेडुइन गांव में 10 साल का एक बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया। उत्तरी इजरायल के एक अरब शहर उम्म अल फहम के पास मिसाइल के कुछ हिस्से गिरे, जिससे कोई हताहत नहीं हुआ।

कान टीवी समाचार ने एक वरिष्ठ इजराइली अधिकारी का हवाला देते हुए रविवार को बताया कि इजराइल ईरानी हवाई हमले का जवाब देने की योजना बना रहा है।

अधिकारी ने कहा, “ईरान ने पहली बार अपनी धरती से इजरायल पर मिसाइलें दागी हैं, इसका जवाब दिया जाएगा, जल्द ही।”

ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड्स कॉर्प्स (आईआरजीसी) ने शनिवार रात एक बयान में पुष्टि की कि उसने इज़राइल पर मिसाइल और ड्रोन से हमले किए हैं।

कान टीवी समाचार ने बताया कि ड्रोन ईरान के साथ-साथ ईरान के मित्र देशों से भी लॉन्च किए गए।

इजरायली सेना ने पहले एक बयान में कहा था कि “आईडीएफ हाई अलर्ट पर है, साथ ही इजरायली वायु सेना के लड़ाकू जेट और इज़रायली नौसेना के जहाज भी रक्षा मिशन पर हैं”।

इस बीच, दो इजरायली अधिकारियों ने नाम न छापने की शर्त पर सिन्हुआ समाचार एजेंसी से पुष्टि की कि ईरान से इजरायल की ओर कई क्रूज मिसाइलें भी लॉन्च की गईं।

अप्रैल की शुरुआत में सीरिया के दमिश्क में ईरानी कांसुलर भवन में सात ईरानी अधिकारियों की हत्या का बदला लेने के लिए ईरान ने इजरायल पर हमले किए हैं।

–आईएएनएस

एसकेपी/

E-Magazine