डॉ रेड्डीज लैब का मुनाफा चौथी तिमाही में 36 प्रतिशत बढ़ा

मुंबई, 7 मई (आईएएनएस)। डॉ रेड्डीज लैब को वित्त वर्ष 2023-24 की जनवरी-मार्च तिमाही में 1.307 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ है जो पिछले साल की समान तिमाही के 959.2 करोड़ रुपये की तुलना में 36 प्रतिशत ज्यादा है।

हैदराबाद स्थित फार्मा कंपनी ने मंगलवार को बताया कि तिमाही के दौरान उसका राजस्व भी 12 फीसदी बढ़कर 7,083 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। वित्त वर्ष 2022-23 की समान तिमाही में कंपनी की कमाई 6,296.8 करोड़ रुपये रही थी।

डॉ रेड्डीज लैब के निदेशक मंडल ने वित्त वर्ष 2023-24 के लिए पांच रुपये अंकित मूल्य के प्रत्येक शेयर पर 40 रुपये के लाभांश को मंजूरी दी है।

कंपनी ने बताया कि चौथी तिमाही में उसका ईबीआईटीडीए 14 प्रतिशत बढ़कर 1,872 करोड़ रुपये हो गया। यह पिछले साल की इसी तिमाही में 1,631.2 करोड़ रुपये रहा था। ईबीआईटीडीए राजस्व का 26.4 प्रतिशत रहा जबकि एक साल पहले यह 25.9 प्रतिशत था।

बाजार विश्लेषकों ने बताया कि चौथी तिमाही में कंपनी का लाभ और राजस्व बढ़ाने में उसकी कैंसर की दवा रेवलिमिड की सबसे बड़ी भूमिका रही।

कंपनी ने बताया कि मुख्य वित्तीय अधिकारी (सीएफओ) पराग अग्रवाल 31 जुलाई को सेवानिवृत्त होंगे। डिप्टी सीएफओ एम.वी. नरसिम्हा 1 अगस्त से उनकी जगह लेंगे।

–आईएएनएस

एकेजे/

E-Magazine