चीन की अर्थव्यवस्था 'वैश्विक विकास इंजन' है : तारेक अल-सोनोटी

[ad_1]

बीजिंग, 13 मार्च (आईएएनएस)। मिस्र के अल-अहराम के उप प्रधान संपादक तारेक अल-सोनोटी ने हाल ही में एक साक्षात्कार में कहा कि चीन की अर्थव्यवस्था वैश्विक आर्थिक विकास में एक प्रमुख इंजन है। इससे न केवल चीनी लोगों को लाभ होता है, बल्कि वैश्विक विकास में भी योगदान मिलता है।

अल-सोनोटी ने इस बात पर ज़ोर दिया कि चीन की उच्च आर्थिक वृद्धि “भाग्य” के कारण नहीं है, बल्कि चीन की स्थिर नीति का एक ठोस परिणाम है।

अल-सोनोटी के विचार में, चीन की नीतियों का उद्देश्य अन्य देशों के साथ आर्थिक सहयोग और व्यापार संबंधों को मज़बूत करना, चीनी बाज़ार में निवेश चैनलों का विस्तार करना और विभिन्न अर्थव्यवस्थाओं के बीच समन्वय को बढ़ावा देना है। बाहरी दुनिया के लिए चीन का उच्च स्तरीय खुलापन सामान्य हितों को आगे बढ़ाने के आधार पर अन्य देशों के साथ सहयोग को मजबूत करना है।

अल-सोनोटी का मानना ​​है कि चीन ने विकासशील देशों को बुनियादी ढांचे, व्यापार और निवेश, नए औद्योगिक क्षेत्र निर्माण जैसे परियोजनाओं को पूरा करने में मदद की है और इन देशों को तकनीकी, संस्थागत और वित्तीय सहायता प्राप्त हुई है।

उन्होंने कहा कि चीन ने मानव समृद्धि के लिए कई पहलों का प्रस्ताव दिया है, और ये सिद्धांत और नीतियां कभी भी दूसरे देशों के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप नहीं करते हैं। चीन का लक्ष्य सभी देशों के साथ सामान्य हितों और प्रत्येक देश की संप्रभुता के सम्मान के आधार पर संबंध विकसित करना है, इस दृष्टिकोण को अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से मान्यता मिली है।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

–आईएएनएस

एबीएम/

[ad_2]

E-Magazine