बचपन के कोच की कुलदीप को सलाह, 'जोश में होश नहीं खोना….'

नई दिल्ली, 14 अप्रैल (आईएएनएस)। कुलदीप यादव के बचपन के कोच कपिल देव पांडे ने रविवार को खुलासा किया कि उन्होंने भारतीय स्पिनर को सुझाव दिया था कि मैदान पर ‘किसी को प्रभावित करने’ के लिए जल्दबाजी न करें और दिल्ली कैपिटल्स के लिए मैदान में उतरने से पहले ‘100 प्रतिशत फिट रहें’।

कमर की चोट के कारण तीन मैचों से चूकने के बाद, कुलदीप ने दिल्ली कैपिटल्स में वापसी की और लखनऊ सुपर जाइंट्स के खिलाफ सिर्फ 20 रन देकर तीन विकेट लिए और दिल्ली की बहुप्रतीक्षित जीत में स्टार बने।

कपिल देव पांडे ने आईएएनएस को बताया, “मैंने कुलदीप से बात की और उससे पूछा कि वह मैच क्यों नहीं खेल रहे हैं और उन्होंने कहा कि वह चोटिल हैं। मैंने कहा कि जब तक आप फिट नहीं हो जाते तब तक मत खेलो, यह मेरी सलाह थी। अक्सर खिलाड़ी इस प्रयास में भावुक हो जाते हैं। एक मैच या फ्रेंचाइजी को ऊपर ले जाने की चाहत में… इसलिए, मैंने कहा कि तभी खेलें जब आप फिट हों।

“इस समय कुलदीप सिर्फ अपने लिए या किसी फ्रेंचाइजी के लिए नहीं खेल सकते क्योंकि देश के लिए खेलना ज्यादा जरूरी है। इसलिए मैंने उनसे कहा कि आपको तभी खेलना चाहिए जब आप फिट हों, उन्होंने कहा ‘मेरी टीम हार रही है,’ इसलिए मेरे लिए खेलना बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने वह मैच खेला जिसमें उन्होंने शानदार गेंदबाजी की।”

कोच ने आगे कहा कि टी20 वर्ल्ड कप को ध्यान में रखते हुए कुलदीप ने अपनी गेंदबाजी में कुछ बदलाव (वेरिएशन जोड़े) किए हैं।

“लंबी प्रक्रिया में चोटें लगती रहती हैं। लेकिन कुलदीप अपने शीर्ष फॉर्म में हैं। जब पिछला विश्व कप खत्म हुआ, तो मैंने उनसे कहा कि टेस्ट मैच हैं इसलिए अपनी तैयारी अच्छी रखें।

वनडे के बाद टेस्ट में आना मुश्किल है। जैसे ही टेस्ट मैच ख़त्म हुए, आईपीएल शुरू हो गया। मैंने उनसे कहा कि बल्लेबाज़ के अनुसार गेंद को पढ़ने के लिए अपने दिमाग का अच्छा इस्तेमाल करो। मैंने उन्हें सलाह दी कि अपनी गेंद की उड़ान को कम करो और उसे मौके पर रखो।

उन्होंने कहा, “आपने वह गुगली देखी होगी जो उन्होंने निकोलस पूरन को फेंकी थी। मैंने उनसे कहा था कि वह चाइनामैन से ज्यादा गुगली फेंकें।”

कपिल देव पांडे ने ये भी कहा कि युजवेंद्र चहल से कुलदीप को अच्छी टक्कर मिलती है। युजवेंद्र चहल जैसे अन्य खिलाड़ी भी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। ऐसा नहीं है कि कुलदीप के पास प्रतिस्पर्धा नहीं है लेकिन वह इस समय बाकी सभी से बेहतर फॉर्म में हैं।”

–आईएएनएस

एएमजे/आरआर

E-Magazine