बीएसएफ के ADG पूर्वी कमान ने भारत-बांग्लादेश सीमा का किया दौरा

मालदा में भारत-बांग्लादेश सीमा के दौरे के दौरान रवि गांधी बीएसएफ ने 159वीं वाहिनी के इलाके का पहला दौरा किया। वहीं, भागीरथी नदी के आसपास के इलाकों में जाकर सुरक्षा रणनीति का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने कंपनी कमांडर के साथ चर्चा की |

बीएसएफ के पूर्वी कमान के अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी) रवि गांधी ने देश की सीमाओं की सुरक्षा के लिए बीएसएफ की अटूट प्रतिबद्धता पर जोर दिया। उन्होंने बीएसएफ कर्मियों के समर्पण और व्यावसायिकता की सराहना की। साथ ही सीमा पर सुरक्षा और अखंडता बनाए रखने के लिए अंतरराष्ट्रीय समकक्षों के साथ निरंतर सतर्कता व समन्वय के महत्व को दोहराया।

उल्लेखनीय है कि मालदा में भारत-बांग्लादेश की सीमा की दो दिवसीय यात्रा के बाद उन्होंने यह बात कही। इस दौरान उन्होंने सीमा का दौरा किया और हालात का जायजा लिया। विभिन्न चौकियों का दौरा भी किया और वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की और सीमा के बारे में जानकारी हासिल की। वरिष्ठ अधिकारियों ने उन्हें घुसपैठ रोकने सहित विभिन्न अभियानों की जानकारी दी। गांधी ने जवानों और अधिकारियों का उत्सावर्धन किया।

दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के जनसंपर्क अधिकारी, डीआइजी ए.के. आर्य ने बताया कि रवि गांधी, अतिरिक्त महानिदेशक (पूर्वी कमान) कोलकाता ने आयुष मणि तिवारी (आईपीएस), आईजी बीएसएफ, दक्षिण बंगाल सीमान्त के साथ दो दिवसीय यात्रा के दौरान पश्चिम बंगाल के मालदा में भारत बांग्लादेश सीमा पर विभिन्न सीमा चौकियों ओर सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण इलाकों का दौरा कर विभिन्न परिचालन तैयारियों का जायजा लिया।

सीमा और नदी के इलाकों का किया दौरा
मालदा में भारत-बांग्लादेश सीमा के दौरे के दौरान, रवि गांधी बीएसएफ ने 159वीं वाहिनी के इलाके का पहला दौरा किया। महानिरीक्षक, क्षेत्रीय मुख्यालय, मालदा ने उन्हें ऑप्स ब्रीफिंग दी तथा क्षेत्रीय मुख्यालय, मालदा के अधीन वाहिनियों के जिम्मेदारी के क्षेत्र के बारे में जानकरी दी। इसके बाद गांधी ने 159 बटालियन की सीमा चौकियों खुटादाह व बाटोली दौरा किया और बाटोली में जाकर अंतर सीमांत की सीमा व पूर्णभावा नदी के चर इलाकों का दौरा किया। जहां पर 159वीं बटालियन के कमांडेंट ने उन्हें 159 बटालियन के उत्तरदायित्व क्षेत्र तथा तस्करी और अवैध घुसपैठ पर अंकुश लगाने के लिए नई सुरक्षा रणनीतियों के बारे में जानकारी दी।

चुनाव के दौरान अधिक एहतियात बरतने के दिए निर्देश
इसके बाद एडीजी, पूर्वी कमान ने सीमा चौकी आरके वाधवा, 159 बटालियन और 12वीं वाहिनी की सीमा चौकियों अनुराधापुर, मनसामाता का दौरा किया। यात्रा के दौरान अधिकरियों और जवानों से बातचीत की। जवानों द्वारा किए जा रहे कार्य की सहारना करते हुए उन्हें इलेक्शन के दौरान ओर ज्यादा एतिहाद बरतने और अधिक जिम्मेदारी के साथ ड्यूटी करने के निर्देश दिए।

सीमा पर दिखी सौहार्द की झलक
अतिरिक्त महानिदेशक, पूर्वी कमान ने 70 बटालियन, बीएसएफ के बीओपी महादीपुरका दौरा किया। इस दौरान सौहार्द और सद्भावना के तहत उन्होंने बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश के अधिकारियों को फलों की टोकरी और मिठाइयां प्रदान की। 70 बटालियन की सीमा चौकियों लोढ़िया, सासनी का जायजा लेते हुये जवानों और अधिकारीयों से बातचीत की।

नवनिर्माणों का लिया जायजा, भगीरथी का किया दौरा
अपनी यात्रा के अगले पड़ाव में अतरिक्त महानिदेशक ने 115 बटालियन, बीएसएफ की बीओपी सोवापुर व नवनिर्माण हो रहे सोवापुर टीपी का दौरा किया। भागीरथी नदी के आसपास के इलाकों में जाकर सुरक्षा रणनीति का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने कंपनी कमांडर के साथ चर्चा की। इस दौरान अधिकारियों ने संबंधित क्षेत्रों के संबंध में विस्तृत ब्रीफिंग के साथ तस्करी और सीमा पार अपराधों के खिलाफ की जा रही कार्रवाही की जानकारी दी।

E-Magazine