अमृत भारत और वंदे भारत के चेयर कार की सफलता के बाद जल्द स्लीपर को ट्रैक पर उतारने की तैयारी

[ad_1]

नई दिल्ली, 9 मार्च (आईएएनएस)। अमृत भारत और वंदे भारत ट्रेन के चेयर कार की सफलता के बाद अब जल्द ही पटरी पर लोगों को वंदे भारत ट्रेन का स्लीपर वर्जन भी देखने को मिलेगा। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने शनिवार को वंदे भारत स्लीपर ट्रांजिट की कारबॉडी स्ट्रक्चर का उद्घाटन किया। इसका निर्माण बीईएमएल कर रही है।

रेल मंत्री ने अक्टूबर 2023 में ही बताया था कि वंदे भारत एक्सप्रेस स्लीपर प्रोटोटाइप का उत्पादन बेंगलुरु में बीईएमएल कर रहा है। वंदे भारत स्लीपर ट्रेन स्व-चालित ट्रेन सेट होगी, जिसमें राजधानी एक्सप्रेस ट्रेनों से बेहतर सुविधाएं होंगी, जो भारतीय रेलवे में रात में सफर करने वालों के लिए एक अलग सेगमेंट होगा।

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने साल की शुरुआत में कहा था कि 10 वंदे भारत स्लीपर ट्रेन सेट के उत्पादन की योजना है। बीईएमएल द्वारा निर्मित किए जाने वाले 10 ट्रेन सेटों के अलावा, अन्य वंदे भारत स्लीपर परियोजनाओं का भी काम जारी है। यह ट्रेन 160 किमी प्रति घंटे की गति से चलेगी।

पहले प्रोटोटाइप वंदे भारत स्लीपर ट्रेन सेट में 11 एसी 3 टियर कोच, 4 एसी 2 टियर कोच और 1 एसी फर्स्ट कोच होंगे। इसमें राजधानी एक्सप्रेस की तुलना में बेहतर कुशनिंग के साथ अधिक आरामदायक बर्थ, सामान्य क्षेत्रों में सेंसर-आधारित प्रकाश व्यवस्था, बेहतर कप्लर्स के साथ झटका-मुक्त सवारी, डिब्बों के गलियारे क्षेत्र में आसान आवाजाही के लिए स्ट्रिप्स के माध्यम से फर्श पर बेहतर रोशनी की भी व्यवस्था की जाएगी।

ट्रेन में ऊपरी बर्थ पर चढ़ने में आसानी के लिए बेहतर डिजाइन वाली सीढ़ी का उपयोग किया जाएगा। इसके अतिरिक्त, बेहतर परिवेश अनुभव के लिए इंटीरियर में क्रीम, पीले और लकड़ी के रंगों का उपयोग किया गया है।

–आईएएनएस

पीकेटी/एबीएम

[ad_2]

E-Magazine