हमें इसी तरह आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी करनी चाहिए :रोहित

सेंट विंसेंट, 23 जून (आईएएनएस। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा बांग्लादेश के ख़िलाफ़ भारतीय टीम की बल्लेबाज़ी अप्रोच को लेकर संतुष्ट हैं और उनका मानना है कि उनकी टीम को इसी तरह की आक्रामक शैली में बल्लेबाज़ी करनी चाहिए।

टी20 वर्ल्ड कप 2024 में अब तक भारतीय टीम एक भी मैच नहीं हारी है। बांग्लादेश के ख़िलाफ़ जीत के बाद रोहित ने कहा, “मैं काफ़ी लंबे समय से इस पर अपनी राय रखते आया हूं। हमने आज परिस्थितियों को बहुत बेहतर ढंग से परखा। गेंद और बल्ले दोनों के साथ ही हमारी रणनीति सफल हुई। कुल मिलाकर यह बहुत बढ़िया टीम एफ़र्ट था। हमें मैदान में उतर कर उसी तरह का खेल खेलना है, जो हमसे उम्मीद की जाती है।”

भारत ने स्कोरबोर्ड पर 196 रन बनाए। इस पारी में गेंदों के लिहाज़ से सबसे लंबी पारी विराट कोहली की थी, जिन्होंने 28 गेंदों पर 37 रन बनाए जबकि सर्वश्रेष्ठ स्कोर हार्दिक पांड्या का था जिन्होंने 27 गेंदों पर नाबाद 50 रन बनाए। इस बीच पारी में ऋषभ पंत (24 गेंदों पर 36) और शिवम दुबे (24 गेंदों पर 34) की ओर से खेली गई कैमियो पारियां भी शामिल थीं।

रोहित ने कहा, “हर बल्लेबाज़ को अपनी भूमिका अदा करनी होती है। आज सिर्फ़ एक बल्लेबाज़ ने ही अर्धशतक लगाया, लेकिन इसके बावजूद हम 196 तक पहुंच गए। मुझे नहीं लगता कि टी20 में यह मायने रखता है कि आप कितने अर्धशतक या शतक लगा रहे हैं बल्कि यह ज़्यादा ज़रूरी है कि आप विपक्षी टीम पर दबाव बनाने में कितने सफल हैं।”

पूर्व भारतीय क्रिकेटर अनिल कुंबले भारतीय टीम के इस अप्रोच से संतुष्ट दिखे। उन्होंने ईएसपीएनक्रिकइंफो के टाइम आउट शो पर कहा, “इंटेंट के साथ बल्लेबाज़ी करना अहम है। भारत आठ बल्लेबाज़ों के साथ खेल रहा है और आठ नंबर पर बल्लेबाज़ी विकल्प के रूप में भारत के पास रवींद्र जडेजा हैं। इससे भारत के टॉप ऑर्डर को छूट के साथ बल्लेबाज़ी करना का मौक़ा मिला है।”

कुंबले ने कहा, “अगर आप इनके आउट होने का तरीक़ा देखेंगे तो भले ही आप उससे सहमत ना हों लेकिन टी20 क्रिकेट यही है। इस प्रारूप में इसी तरह की बल्लेबाज़ी की जानी चाहिए। अगर आप पंत को भी देखें तो वह एक छक्का और एक चौका लगा चुके थे लेकिन इसके बाद भी वह रिवर्स स्वीप खेलने गए।”

अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ़ हार्दिक पांड्या ने सूर्यकुमार यादव के साथ मिलकर अर्धशतकीय साझेदारी की थी। इसके ठीक दो दिन बाद ही उन्होंने पंत और शिवम दुबे के साथ उपयोगी साझेदारियां की और अंतिम पांच ओवर में भारत ने 62 रन बनाए।

रोहित ने कहा, “मैंने पिछले मैच के बारे में भी कहा था कि सूर्या के साथ उनकी साझेदारी हमारे लिए काफ़ी महत्वपूर्ण थी और उस साझेदारी की बदौलत हम अच्छी स्थिति में पहुंच गए थे। हमें हार्दिक की क्षमता का पता है। आज उन्होंने इस बात की मिसाल पेश की कि वह बल्ले के साथ क्या कमाल दिखा सकते हैं। अगर वह ऐसे ही अपना खेल जारी रखेंगे तो हम बहुत अच्छी स्थिति में पहुंच जाएंगे।”

–आईएएनएस

आरआर/

E-Magazine