वाराणसी: रोजाना 1000 रुपये कमाने का झांसा देकर सिपाही से 2.87 लाख की ठगी

साइबर अपराधियों ने वाराणसी में पुलिसकर्मी को भी नहीं बख्शा। लाखों रुपये गंवाने के बाद सिपाही ने इस मामले में मुकदमा दर्ज करवाया है। साइबर सेल अपने स्तर से मामले की जांच कर रही है। दूसरी तरफ, पीड़ित सिपाही ने जब अपना पैसा मांगने के लिए सम्बंधित नंबर पर कॉल किया तो उससे गाली-गलौज किया जा रहा है।

वाराणसी के सिगरा थाने में तैनात एक सिपाही को रोजाना एक हजार रुपये कमाने का झांसा देकर साइबर जालसाजों ने 2,87,205 रुपये की चपत लगा दी। सिपाही की तहरीर पर सिगरा थाने में केस दर्ज किया गया है। सिगरा थानाध्यक्ष राजू सिंह ने बताया कि पुलिस साइबर सेल की मदद से जांच कर रही है।

सिपाही राहुल कुमार सिंह ने बताया कि 24 मार्च को म्यूटीनेक्स नाम की कंपनी से एक एजेंट निधि शर्मा से टेलीग्राम एप पर बात हुई। निधि ने कहा कि अगर रोजाना लगभग 1000 रुपये अतिरिक्त कमाना है तो हमारी कंपनी में निवेश करें। झांसे में आकर 205 रुपये निवेश किया तो 700 रुपये मिले। निधि ने कहा कि एक लाख रुपये निवेश करने पर और अच्छा रिटर्न मिलेगा। इस पर राहुल ने एक लाख रुपये ट्रांसफर कर दिया, लेकिन एक रुपये भी नहीं मिला।

निधि ने फिर कहा कि एक लाख 87 हजार रुपये निवेश कर दीजिए तो सारा पैसा एक साथ मिल जाएगा। निधि की बातों पर विश्वास कर राहुल ने एक लाख 87 हजार रुपये भी ट्रांसफर कर दिया। अब पैसा वापस मांगने पर निधि गाली-गलौज करती है।

E-Magazine