अश्लील वीडियो मामले में कर्नाटक में SIT की छापेमारी

 कर्नाटक के हासन से जद(एस) सांसद और राजग उम्मीदवार प्रज्ज्वल रेवन्ना के यौन उत्पीड़न मामलों की जांच के लिए एसआईटी ने मंगलवार को हासन जिले में और आसपास विभिन्न स्थानों पर छापेमारी की है। सूत्रों का कहना है कि एक भाजपा नेता के करीबी के आवासीय परिसरों और कार्यालयों में छापे मारे गए हैं। यह छापे प्रज्ज्वल रेवन्ना से जुड़े लीक हुए अश्लील वीडियो के स्त्रोतों का पता लगाने के लिए डाले गए हैं।

जेल से बाहर आए एचडी रेवन्ना

इस बीच, जमानत मिलने के बाद प्रज्ज्वल के पिता और जद(एस) के विधायक व पूर्व मंत्री एचडी रेवन्ना जेल से बाहर आ गए हैं। इंटरनेट मीडिया पर लीक हुए अश्लील वीडियो के आधार पर प्रज्ज्वल रेवन्ना पर महिलाओं का यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया गया है।

देश छोड़कर भाग गया है रेवन्ना

रेवन्ना मामला सामने आने के बाद वह देश छोड़कर भाग गया है। इंटरपोल ने उसका पता लगाने के लिए ब्लूकार्नर नोटिस जारी किया है। एक लड़के ने अपनी मां का अपहरण करके उनका यौन उत्पीड़न किए जाने का आरोप लगाया था। उसकी मां को बाद में एसआईटी के अधिकारियों ने एचडी रेवन्ना के पीए के फार्म हाउस से बचा कर निकाला था।

अपहरण मामले में मिली जमानत

इधर, मंगलवार के दिन जद(एस) के विधायक 66 वर्षीय एचडी रेवन्ना को सशर्त जमानत के बाद बेंगलुरु के पारापन्ना अग्रहारा जेल से रिहा कर दिया गया। एचडी रेवन्ना को एक विशेष अदालत ने अश्लील वीडियो कांड से जुड़े अपहरण के मामले में सशर्त जमानत दी। जेल के बाहर जश्न मना रहे एचडी रेवन्ना के समर्थकों पर पुलिस ने लाठीचार्ज करके उन्हें तितर-बितर किया। विशेष अदालत के जज संतोष गजानन भट ने मामले की सुनवाई करते हुए उन्हें पांच लाख रुपये के मुचलके पर सशर्त जमानत दी है।

समर्थकों ने जेल के बाहर मनाया जश्न

जेल में छह दिन बिताने के बाद जैसे ही एचडी रेवन्ना बाहर आए उनकी पार्टी के समर्थकों जेल के बाहर जश्न मनाया। एचडी रेवन्ना अपने पिता व पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा से मिलने घर गए और उनका आशीर्वाद लिया। एचडी रेवन्ना को 4 मई को एसआइटी के अफसरों ने गिरफ्तार किया था।

वीडियो लीक करने में बड़ी मछली का हाथ : कुमारस्वामी

जद(एस) नेता एचडी कुमारस्वामी ने कथित अश्लील वीडियो लीक करने में अपने नेताओं का पक्ष लेते हुए आरोप लगाया कि इसके पीछे बड़ी मछली का हाथ है। उनके भतीजे और सांसद प्रज्ज्वल रेवन्ना को फंसाया गया है। जद(एस) में दूसरे नंबर के नेता एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि मांड्या के विधायक ने कहा कि वीडियो रिलीज करने में बड़ी मछलियों का हाथ है। हालांकि कुमारस्वामी का रुख कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री डीके शिवकुमार के रुख से अलग है जिन्होंने इस मामले में चुप्पी ही साध ली है।  

E-Magazine