अंदरूनी मामले में बाहरी हस्तक्षेप स्वीकार नहीं, भाजपा से हम खुद लड़ेंगे : समाजवादी पार्टी

लखनऊ, 28 जून (आईएएनएस)। अमेरिका ने भारत में धार्मिक आजादी को लेकर सवाल उठाए हैं। अमेरिका का कहना है कि भारत में अल्पसंख्यकों के खिलाफ हिंसा में बढ़ोतरी हुई है। अमेरिका के इस बयान पर समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता फखरुल हसन चांद की प्रतिक्रिया सामने आई है।

फखरुल हसन चांद ने कहा कि देश के अंदरूनी मामले में बाहरी देश के हस्तक्षेप को समाजवादी पार्टी स्वीकार नहीं करती है। हमारे पास बाबा का संविधान है, लोकतंत्र है। भाजपा ने जो कुछ भी गलतियां की हैं, उसके लिए हम खुद लड़ेंगे। हमारे देश में न्यायपालिका और विपक्ष है जो भाजपा की गलतियों से लड़ेंगे। किसी बाहरी देश को अंदरूनी मामलों में बात करने की समाजवादी पार्टी निंदा करती है।

नीट पर विपक्ष की ओर से संसद में चर्चा की मांग को लेकर उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी और इंडिया गठबंधन ने यह मांग की है कि धन्यवाद प्रस्ताव से पहले नीट पर बात कर ली जाए, जिसमें धांधली और भ्रष्टाचार हुआ है। यह छात्रों और नौजवानों के भविष्य का सवाल है, लेकिन भाजपा को नौजवानों के भविष्य की कोई चिंता नहीं है। भाजपा नीट पर बहस से बचना चाहती है, लेकिन समाजवादी पार्टी इस मुद्दे को सड़क से संसद तक उठाएगी।

भाजपा पर हमला तेज करते हुए फखरुल हसन ने कहा कि उनके पास मुद्दे नहीं हैं। लोकसभा में हमने ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतीं, उनकी सीटें आधी हो गईं। भाजपा अब उन मुद्दों को उठा रही है, जिससे जनता का कोई लेना देना नहीं, सपा हमेशा मुद्दे की राजनीति करती है।

छोटे उद्योगों को बढ़ावा दिया गया, सीएम योगी के इस बयान पर उन्होंने कहा कि जीएसटी ने व्यापारियों को परेशान किया है। छोटे व्यापारी जीएसटी से परेशान हैं, इस पर भाजपा को ध्यान देना चाहिए, भाजपा के दावे की हकीकत कुछ और है।

आप मेहनत कीजिए, नौकरी हम दिलाएंगे, एनडीए विधायक बेदी राम के इस बयान पर उन्होंने कहा कि उनके इस बयान पर सपा ने बेदी राम की गिरफ्तारी की मांग की है। उनके ऊपर गंभीर आरोप हैं, भाजपा सरकार में ऐसे लोगों को संरक्षण मिल रहा है। आने वाले समय में देश के छात्र और नौजवान भाजपा को अपनी ताकत का एहसास कराएंगे।

–आईएएनएस

पीएसके/एसकेपी

E-Magazine