रोहित-गिल के शतक, भारत 255 रन की बढ़त के साथ ड्राइवर सीट पर (लीड)

[ad_1]

धर्मशाला, 8 मार्च (आईएएनएस) कप्तान रोहित शर्मा (103) और शुभमन गिल (110) के शानदार शतकों तथा उनके बीच दूसरे विकेट के लिए 171 रन की जबरदस्त साझेदारी की बदौलत भारत ने पांचवें और अंतिम टेस्ट मैच में दूसरे दिन शुक्रवार को आठ विकेट पर 473 रन बनाकर इंग्लैंड पर अपना शिकंजा कस दिया। भारत के पास अब 255 रन की भारी बढ़त हो गयी है।

रोहित और गिल के शतकों के अलावा डेब्यूटेंट देवदत्त पडिक्कल (65) तथा सरफराज खान (56 ) ने अर्धशतक बनाये और चौथे विकेट के लिए 97 रन की साझेदारी कर भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचाया। स्टंप्स के समय कुलदीप यादव 27 और जसप्रीत बुमराह 19 रन बनाकर क्रीज पर है। दोनों के बीच नौंवें विकेट के लिए 45 रन की अटूट साझेदारी हो गयी है।

भारत ने कल के एक विकेट पर 135 रन से आगे खेलना शुरू किया। दिन भर के खेल में इंग्‍लैंड ने सात विकेट निकाले, लेकिन शुरुआती पांच बल्‍लेबाजों की शानदार पारियों की वजह से भारत इस मैच में बहुत आगे निकल गया है। तीसरे सेशन में इंग्‍लैंड को पांच विकेट मिले लेकिन उन्‍होंंने 97 रन भी दिए।

इंग्लैंड अपनी पहली पारी में 218 रन बनाकर ऑलआउट हो गया था। शुक्रवार को भारत ने 135/1 से अपनी पारी आगे बढ़ाई। फिलहाल दूसरे दिन लंच तक भारत ने एक विकेट के नुकसान पर 264 रन बना लिए थे । रोहित शर्मा और शुभमन गिल दोनों खिलाड़ी शतक लगा चुके थे। दोनों खिलाड़ी लंच के बाद आउट हुए।

रोहित शर्मा 162 गेंदों में 3 छक्के और 13 चौके लगाकर 103 रन बनाकर आउट हुए। वहीं गिल 150 गेंदों का सामना करते हुए 5 छक्के और 12 चौके लगाकर 110 रन बनाकर आउट हुए। एक चुनौतीपूर्ण सुबह के बाद इंग्लैंड ने आखिरकार सफलता हासिल की और वह कप्तान बेन स्टोक्स थे, जिन्होंने रोहित को बोल्ड कर अपनी टीम को सफलता दिलाई। घुटने की लगातार समस्या के कारण जून में लॉर्ड्स टेस्ट के बाद से स्टोक्स ने गेंदबाजी करने से परहेज किया था। इस दौरान पिछले साल उनकी सर्जरी भी हुई।

रोहित का विकेट 275 के स्कोर पर गिरा। उनके आउट होने के चार रन बाद गिल को जेम्स एंडरसन ने आउट कर दिया। लेकिन इसके बाद देवदत्त पडिक्कल (77 गेंदों पर नाबाद 44) और सरफराज (59 गेंदों पर नाबाद 56) ने चायकाल तक चौथे विकेट के लिए 131 गेंदों पर 97 रनों की साझेदारी की। स्पिनर शोएब बशीर ने चायकाल के बाद सरफराज और पडिक्कल को पवेलियन का रास्ता दिखाया। सरफराज ने 60 गेंदों में आठ चौके और एक छक्का लगाया जबकि पडिक्कल ने 103 गेंदों पर 10 चौके और एक छक्का लगाया। रवींद्र जडेजा 15, ध्रुव जुरेल 15 और आर अश्विन खाता खोले बिना आउट हुए और भारत का स्कोर आठ विकेट पर 428 रन हो गया।

लेकिन कुलदीप और बुमराह ने उसके बाद अविजित साझेदारी करते हुए भारत को स्टंप्स तक कोई और नुकसान नहीं होने दिया। दोनों ने 55-55 गेंदों का सामना किया है और दो-दो चौके लगाए हैँ। इंग्लैंड की तरफ से बशीर 170 रन पर चार विकेट लेकर सबसे सफल रहे हैँ।

–आईएएनएस

आरआर/

[ad_2]

E-Magazine