हैदराबाद में आसमान से आफत बनकर गिरी बारिश, निर्माणाधीन अपार्टमेंट की दीवार ढही

हैदराबाद में मंगलवार शाम बारिश और आंधी के कारण बिजली आपूर्ति बाधित हो गई है। बारिश और आंधी के कारण कई जगहों पर सड़कों पर जलभराव हो गया, वहीं पेड़ भी उखड़ गए।

इस बीच बुधवार को बाचुपल्ली इलाके में भारी बारिश के कारण एक निर्माणाधीन अपार्टमेंट की दीवार गिर गई। इस हादसे में चार साल के बच्चे सहित सात लोगों की मौत हो गई। घटना मंगलवार शाम की है और मृतक प्रवासी श्रमिक थे जो ओडिशा और छत्तीसगढ़ के निवासी थे। 

मलबे से निकाले गए शव

बचुपल्ली पुलिस के अनुसार,  उनके शव बुधवार तड़के एक उत्खननकर्ता की मदद से मलबे के नीचे से बरामद किए गए। मंगलवार को हैदराबाद और तेलंगाना के कई हिस्सों में भारी बारिश हुई, जिससे कुछ हिस्सों में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। 

आपदा राहत बल की टीम तैनात

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम के अधिकारियों ने कहा कि डीआरएफ (आपदा राहत बल) की टीमें तैनात की गई हैं और शहर में विभिन्न स्थानों पर जमा पानी और गिरे हुए पेड़ों को हटा रही हैं। प्रमुख सचिव (नगरपालिका प्रशासन और शहरी विकास) दानकिशोर ने जीएचएमसी आयुक्त रोनाल्ड रोज के साथ शहर के विभिन्न जलभराव वाले क्षेत्रों का दौरा किया और जमीन पर डीआरएफ टीमों को निर्देश दिए। 

मुख्यमंत्री रेड्डी ने दिए निर्देश

तेलंगाना राज्य विकास योजना सोसायटी के अनुसार, ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) के मुख्य कार्यालय में मंगलवार को सुबह 8.30 बजे से शाम 6 बजे के दौरान सबसे अधिक 84.5 मिमी बारिश हुई। मुख्यमंत्री ए रेवंत रेड्डी ने वारंगल में स्थिति की समीक्षा की। बता दें कि यहां वह लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को सड़कों पर पानी निकालने और बिजली आपूर्ति फिर से शुरू करने के लिए कदम उठाने का निर्देश दिया।

E-Magazine