लगातार तीसरी बार हज़ार के पार पहुंचा आईपीएल में लगे छक्कों का आंकड़ा

नई दिल्ली, 9 मई (आईएएनएस) लगातार तीसरी बार आईपीएल के एक सीज़न में एक हज़ार से अधिक छक्के लगे हैं। 2022 में दो नई टीमों के आने से मैचों की संख्या में बढ़ोतरी हुई और इसका सीधा असर छक्कों की संख्या पर भी पड़ा। उस सीज़न 74 मैचों में कुल 1062 छक्के लगे थे। इससे पहले सर्वाधिक 872 छक्के आईपीएल 2018 में लगे थे।

आईपीएल 2023 में 1124 छक्के लगे और अब यह आंकड़ा भी ज़्यादा दूर दिखाई नहीं दे रहा है। इस सीज़न में अभी 17 मैच और बचे हुए हैं और इस आंकड़े को पार करने के लिए सिर्फ़ 110 और छक्कों की दरकार है। आईपीएल 2023 में एक हज़ार छक्कों की संख्या 67वें मैच में पूरी हुई थी जबकि इस बार 10 मैच कम और 2312 गेंद पहले ही पूरी हो गई।

दो बार टूटा एक मैच में सर्वाधिक छक्कों का रिकॉर्ड

आईपीएल के मौजूदा सीज़न से पहले किसी टी20 मैच में सर्वाधिक छक्कों (37) का रिकॉर्ड अफ़ग़ानिस्तान प्रीमियर लीग (2018) और कैरिबियन प्रीमियर लीग (2019) में बना था। सनराइज़र्स हैदराबाद और मुंबई इंडियंस के बीच 27 मार्च को खेले गए मैच में 38 छक्के लग गए। इसके बाद हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच खेले गए मैच में भी कुल 38 छक्के लगे। हालांकि जल्द ही यह रिकॉर्ड टूट गया और कोलकाता नाइट राइडर्स और पंजाब किंग्स के बीच मैच में कुल 42 छक्के लग गए, यह रिकॉर्ड चेज़ वाला मैच भी था।

हैदराबाद के लिए एक रिकॉर्ड सीज़न

हैदराबादऔर दिल्ली कैपिटल्स कभी भी ज़्यादा छक्के लगाने वाली टीमों में नहीं गिने गए। हैदराबाद ने तो इस सीज़न से पहले किसी सीज़न में 100 छक्के भी नहीं लगाए थे और अब हैदराबाद ने एक सीज़न में सबसे ज़्यादा छक्के लगाने का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है, वह भी तब जब उसके लीग मैच अभी भी बचे हुए हैं।

हैदराबाद ने इस सीज़न अब तक कुल 146 छक्के लगाए हैं, इससे पहले चेन्नई सुपर किंग्स ने 2018 में कुल 145 छक्के लगाए थे। इससे पहले छक्के लगाने के लिहाज़ से हैदराबाद का सबसे बढ़िया सीज़न 2022 का था जब उन्होंने 97 छक्के लगाए थे। इसी तरह दिल्ली ने भी 2018 में 14 मैचों में कुल 115 छक्के लगाए थे और इस सीज़न यह टीम 12 मैचों में ही 120 छक्के जड़ चुकी है।

छक्कों का लॉन्चपैड बना दिल्ली का मैदान

एक साल पहले ही डेविड वॉर्नर ने यह शिकायत की थी कि दिल्ली की पिच बल्लेबाज़ी के लिए अनुकूल नहीं होती और इस सीज़न अरुण जेटली स्टेडियम छक्कों का लॉन्चपैड बन गया है। इस सीज़न यहां अब तक सिर्फ़ चार मैच ही खेले गए हैं और 114 छक्के लग चुके हैं। प्रति मैच इस मैदान पर कम से कम 25 छक्के लगे हैं। औसतन हर 8.41 गेंद पर बॉल बाउंड्री के बाहर गिरी है।

कोलकाता भी इस मामले में पीछे नहीं है। वहां अब तक खेले गए कुल छह मैचों में 139 छक्के लग चुके हैं और आईपीएल के इस सीज़न में सर्वाधिक छक्के भी कोलकाता में ही लगे हैं।

प्रति मैच लगे छक्कों की दर के हिसाब से शीर्ष चार स्थान पर दिल्ली, कोलकाता, बेंगलुरु और हैदराबाद का वेन्यू है। अब तक सिर्फ़ दो बार ही ऐसा हुआ है कि आईपीएल के किसी सीज़न में एक वेन्यू पर 150 से ज़्यादा छक्के लगे हैं। बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में 2016 में कुल 165 छक्के लगे थे। जबकि पिछले साल अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम पर कुल 162 छक्के लगे।

ईडेन गार्डेन्स में यह रिकॉर्ड तोड़ने के लिए अंतिम मैच में 27 छक्कों की ज़रूरत होगी। बेंगलुरु और हैदराबाद भी इस मामले में पीछे नहीं हैं। इन दोनों वेन्यू पर अभी दो मैच बचे हुए हैं और इस सीज़न यहां क्रमशः 111 और 110 छक्के लग चुके हैं।

–आईएएनएस

आरआर/

E-Magazine