एअर इंडिया एक्सप्रेस की 7 प्रतिशत से अधिक उड़ानें रद

एअर इंडिया एक्सप्रेस (Air India Express) ने गुरुवार को परिचालन चुनौतियों के कारण गुरुवार को अपनी सात प्रतिशत से अधिक उड़ानें रद कर दीं। अभी हाल ही में चालक दल के सदस्यों के सामूहिक अवकाश से लौटने के बाद परिचालन को स्थिर करने के प्रयासों के तहत रद्दीकरण पूर्व नियोजित था। सप्ताहांत तक एयरलाइंस के परिचालन के सामान्य होने की उम्मीद जताई जा रही है।

पहले सामूहिक अवकाश पर गए थे कर्मचारी

गत सात मई को एअर इंडिया एक्सप्रेस के 200 से अधिक चालक दल के सदस्य एयरलाइन प्रबंधन पर हितों की अनदेखी का आरोप लगाते हुए सामूहिक अवकाश पर चले गए थे। गत मंगलवार को एअर इंडिया एक्सप्रेस कर्मचारी यूनियन (एआइएक्सईयू) ने एयरलाइन में जारी परिचालन मुद्दों पर दिल्ली के मुख्य श्रमायुक्त से हस्तक्षेप की भी मांग की थी।

कई उड़ानें प्रभावित

एआइएक्सईयू अध्यक्ष केके विजय कुमार ने कहा कि यूनियन गत नौ मई को हुई सुलह बैठक के बाद एअर इंडिया एक्सनप्रेस प्रबंधन द्वारा दैनिक आधार पर उड़ान रद करने और देरी की संख्या के बारे में मुख्य श्रमायुक्त का ध्यान आकर्षित करना चाहता है। सुलह बैठक के आधार पर सभी चालक दल के सदस्य 10 मई को अपनी ड्यूटी पर लौट आए। हालांकि भी चालक दल की बाधाओं का हवाला देते हुए कई उड़ानों को रद अथवा विलंबित की जा रही है।

E-Magazine