इजराइली सेना ने राफा के अन्य हिस्सों को खाली करने का दिया आदेश

तेल अवीव, 11 मई (आईएएनएस/डीपीए)। इजराइली सेना ने शनिवार को गाजा के दक्षिणी शहर राफा निवासियों को क्षेत्र को खाली करने के लिए कहा। इससे स्पष्ट है कि अंतरराष्ट्रीय विरोध के बावजूद वह वहां अपने सैन्य अभियान के विस्तार की योजना बना रही है।

एक्स पर अरबी में प्रसारित संदेश के अनुसार, प्रभावित क्षेत्रों में दो शरणार्थी शिविर भी शामिल हैं।

इजराइली रक्षा बलों (आईडीएफ) ने कहा कि संबंधित क्षेत्र के लोगों को तुरंत भूमध्यसागर के तट पर अल-मवासी गांव में चले जाना चाहिए।

इस आदेश से स्पष्ट है कि आईडीएफ मिस्र की सीमा पर राफा शहर में फिलिस्तीनी इस्लामी संगठन हमास के खिलाफ अपना अभियान बढ़ाना चाहता है।

विदेशी नेताओं और संयुक्त राष्ट्र ने इजराइल से इस अभियान को रोकने का आह्वान किया है। बड़े पैमाने पर हताहत होने की आशंका से डरे लोग राफा से भाग रहे हैं।

गौरतलब है कि 10 लाख से अधिक फिलिस्तीनी राफ़ा में शरण ले रखे हैं। इनमें से आधे बच्चे हैं।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने शुक्रवार को कहा, “राफा में एक बड़ा जमीनी हमला एक बड़ी मानवीय आपदा का कारण बनेगा और वहां के लोगों की सहायता करने के हमारे प्रयासों को बाधित करेगा।”

इजराइल का मुख्य सहयोगी अमेरिका भी इलाके में बड़े पैमाने पर आक्रमण के खिलाफ है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने इजराइल को हथियारों की आपूर्ति रोकने की धमकी दी है। लेकिन इजराइल राफा में हमले के अपने इरादे के प्रति अटल प्रतीत होता है।

–आईएएनएस/डीपीए

सीबीटी/

E-Magazine