नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से सितंबर से शुरू हो जाएगी उड़ान

[ad_1]

लखनऊ, 13 मार्च (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश सरकार के औद्योगिक विकास मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने बुधवार को पिकअप भवन सभागार में यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के विकास कार्यों की समीक्षा की।

इस दौरान अधिकारियों ने बताया कि एशिया के सबसे बड़े नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट जेवर का निर्माण तीव्र गति के साथ चल रहा है, जो निर्धारित समय पर पूरा हो जाएगा। सितंबर 2024 से नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से उड़ान शुरू हो जाएगी। इसको लेकर मंत्री ने पूरी टीम को अग्रिम शुभकामनाएं दी।

मंत्री नंदी ने कहा कि बहुत जल्द प्रदेश का जेवर क्षेत्र एनसीआर का सबसे विकसित क्षेत्र होगा। जेवर में निर्माणाधीन नोएडा इंटरनेशनल ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट एयर कार्गो का हब बनेगा। एयरपोर्ट के पास फिल्म सिटी की स्थापना क्षेत्र के चौतरफा विकास को गति देगी। यह क्षेत्र युवाओं के लिए विभिन्न सेक्टर्स में रोजगार का सृजन करेगा।

सीईओ यीडा अरूण वीर सिंह ने बताया कि ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के लिए यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यीडा) को 43,750 करोड़ रुपए के निवेश के लक्ष्य दिए गए थे। जिसके सापेक्ष यीडा ने निर्धारित लक्ष्य से अधिक 45,148 करोड़ का निवेश जीबीसी में धरातल पर उतारने का कार्य किया। इससे करीब 1 लाख 32 हजार 663 से अधिक रोजगार सृजन की संभावना है।

सीईओ यीडा ने बताया कि वर्ष 2024-25 के लिए यीडा ने 9,992 करोड़ का बजट निर्धारित किया है। सरकार की ओर से बजट मिलने के कारण 13,271 एकड़ लैंड बैंक एक्वायर करने का लक्ष्य है। अमिताभ कांत समिति की रिपोर्ट के आधार पर यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण द्वारा 64.7 प्रतिशत और लीज रेट लेकर रजिस्ट्री कराई जा रही है। वहीं, पेनाल्टी पर छूट दी जा रही है, जिसका लाभ 24 हजार से अधिक भवन स्वामियों को मिल रहा है।

–आईएएनएस

विकेटी/एबीएम

[ad_2]

E-Magazine