अयोध्या: यात्री ना मिलने से रामनगरी से चार शहरों की उड़ानें हुईं ठप

प्राण प्रतिष्ठा के बाद देश भर से लोग अयोध्या आ रहे थे। उसी समय कई शहरों से अयोध्या की डायरेक्ट फ्लाइट शुरू हुई थीं। अब उनमें से चार शहरों की सेवाएं ठप हो गई हैं।

महर्षि वाल्मीकि एयरपोर्ट से बीते एक माह में चार शहरों की सीधी विमान सेवाएं ठप हो गई हैं। इनमें कुछ ऐसी भी फ्लाइट हैं, जो शुरू होने के बाद एक सप्ताह भी सही से नहीं चलीं। ऐसे में अब कनेक्टिंग फ्लाइट के सहारे यात्रियों को हवाई सफर करना पड़ रहा है। इसके चलते किराये पर भी असर देखने को मिल रहा है। इन विमान सेवाओं के ठप होने की वजह यात्रियों की कमी बताई जा रही है।

नौ फरवरी को रामनगरी से स्पाइसजेट ने जयपुर, दरभंगा और पटना समेत छह शहरों की सीधी विमान सेवाएं शुरू की थीं। 30 दिसंबर को एयरपोर्ट के लोकार्पण के बाद एक ही माह में एक साथ कई शहरों की फ्लाइट शुरू होने से रामनगरी की एयर कनेक्टिविटी खासा बेहतर हो गई थी। धीरे-धीरे यात्रियों की कमी ने एयरलाइन कंपनी को विमान सेवाएं ठप करने पर मजबूर कर दिया।

यही हाल देहरादून की फ्लाइट का भी हुआ। छह मार्च को देहरादून एयरपोर्ट से सीएम पुष्कर सिंह धामी ने हरी झंडी दिखाकर अयोध्या के लिए एलायंस एयर का विमान रवाना किया था। ये फ्लाइट सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को अयोध्या आनी थी, लेकिन शुरुआती एक सप्ताह के बाद ये विमान सेवा ठप हो गई।

यात्री मिलने पर शुरू हो सकती हैं सेवाएं
विमानों के शुरू और बंद होने का कार्यक्रम कंपनियों की ओर से तय होता है। कंपनियां अपना आकलन करके ही किसी रूट पर फ्लाइट शुरू करती हैं। हालांकि बंद विमान सेवाएं भी यात्रियों की संख्या को देखते हुए शुरू की जा सकती हैं।- विनोद कुमार, एयरपोर्ट डायरेक्टर

E-Magazine