भाजपा ने हरिद्वार से पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को बनाया उम्मीदवार

[ad_1]

देहरादून, 13 मार्च (आईएएनएस)। लोकसभा चुनाव 2024 के लिए भाजपा ने बुधवार को 72 उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है। इसमें उत्तराखंड की 2 हॉट सीट हरिद्वार और पौड़ी के लिए अपने उम्मीदवार घोषित कर दिए हैं। इसमें हरिद्वार से पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और पौड़ी से अनिल बलूनी को चुनाव मैदान में उतारा है।

भाजपा ने हरिद्वार से इस बार 2024 के लिए पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को मैदान में उतारा है। भाजपा ने इससे पहले हरिद्वार से 2019 में पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को चुनाव मैदान में उतारा था और उन्‍होंने जीत भी दर्ज की थी, लेकिन पार्टी ने इस बार रमेश पोखरियाल निशंक को दुबारा मौका ना देते हुए पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पर दांव लगाया है।

त्रिवेंद्र सिंह रावत इससे पहले 2017 में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री बने थे, जिनका कार्यकाल 4 साल तक का रहा था। त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 2017 में डोईवाला सीट से चुनाव लड़ा था और जीत हासिल की थी। 1979 में त्रिवेंद्र सिंह रावत ने महज 19 साल की आयु में आरएसएस से जुड़े थे और यहीं से उनका राजनीति सफर शुरू हुआ था। 1985 में वह देहरादून में संघ के प्रचारक बने। इसके बाद 1993 में क्षेत्रीय संगठन मंत्री, 1997 में प्रदेश संगठन महामंत्री और 2002 में भाजपा ने उन्हें फिर से प्रदेश संगठन महामंत्री की जिम्मेदारी दी थी। साल 2002 में त्रिवेंद्र सिंह रावत ने डोईवाला से पहले विधानसभा चुनाव लड़ा और जीत हासिल की। इसके बाद 2007 में उन्‍होंने दोबारा डोईवाला से विधानसभा चुनावों में अपनी जीत दोहराई।

साल 2007 में उन्हें उत्तराखंड में बनी भाजपा की सरकार में कैबिनेट मंत्री के पद की जिम्मेदारी सौंपी गई। इसके बाद साल 2012 में त्रिवेंद्र सिंह रावत ने डोईवाला से चुनाव ना लड़कर रायपुर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा, लेकिन इस बार उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद साल 2014 में वह अमित शाह की टीम में शामिल हुए और उन्हें इस बार पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सह प्रभारी की जिम्मेदारी दी गई। साल 2014 में भाजपा की सरकार बनी। इसके बाद उन्हें झारखंड में होने वाले विधानसभा चुनाव की जिम्मेदारी दी गई और यहां भी भाजपा की जीत हुई।

–आईएएनएस

स्मिता/एसजीके

[ad_2]

E-Magazine