महाराष्ट्र: नागपुर में 15 साल की बच्ची से ऑटो चालक ने की अश्लील हरकत

मामला नागपुर के अजनी पुलिस थाना इलाके का है। यहां एक ऑटो चालक नाबालिग छात्रा को स्कूल छोड़ने और वापस लाने का काम करता था। वीडियो में देखा जा सकता है कि ऑटो ड्राइवर छात्रा को स्कूल से घर छोड़ने जा रहा था, तभी बच्ची के साथ छेड़छाड़ की।

मानवता की सारी हदें पार होती जा रही हैं। दरिंदों की घिनौनी नजरों से छोटी बच्ची से लेकर बूढ़ी महिलाएं तक सुरक्षित नहीं हैं। अब एक 15 साल की बच्ची के साथ छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। नागपुर में बुधवार दोपहर एक सुनसान इलाके में एक ऑटोरिक्शा चालक ने एक स्कूली छात्रा का यौन उत्पीड़न किया। इस पूरी घटना का एक स्थानीय व्यक्ति ने वीडियो बना लिया और पुलिस को दे दिया। इसके बाद पुलिस ने चालक की तलाश कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

अजनी पुलिस थाना इलाके का माला
जानकारी के अनुसार, यह मामला नागपुर के अजनी पुलिस थाना इलाके का है। यहां एक ऑटो चालक नाबालिग छात्रा को स्कूल छोड़ने और वापस लाने का काम करता था। वीडियो में देखा जा सकता है कि ऑटो ड्राइवर छात्रा को स्कूल से घर छोड़ने जा रहा था, उस दौरान छात्रा ऑटो में अकेली थी। चालक ने अचानक सूनसान इलाके में ऑटो रोक दिया और छात्रा के साथ अश्लील हरकत करने लगा।

स्थानीय शख्स ने बनाया था वीडियो
इस दौरान एक स्थानीय शख्स ने चालक की नापाक हरकत को मोबाइल में कैद कर लिया और पुलिस को दिखाया। पुलिस तुरंत घटनास्थल पर पहुंची और ऑटो चालक की तलाश शुरू कर दी। पुलिस के सामने उस समय परेशानी खड़ी हो गई, जब उन्होंने वीडियो देखा तो उसमें ऑटो का नंबर ही नहीं दिखाई दे रहा था। हालांकि, अधिकारियों ने कई बार क्लिप को देखा तो उन्हें ऑटो पर मर्सिडीज लोगो बना हुआ दिखाई दिया। फिर क्या था पुलिस ने तलाश तेज कर दी।

जांच के बाद पुलिस ने छात्रा के साथ अश्लील हरकत करने वाले ऑटो चालक के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। इसी के साथ पुलिस ने ऑटो भी जब्त कर लिया।

ऐसे आरोपी को पकड़ा
पुलिस निरीक्षक लक्ष्मण केंद्रे ने बताया, ‘ऑटो के दोनों तरफ मर्सिडीज के दो लोगो थे। हम पास के एक ऑटो प्वाइंट पर गए, जहां हमें वह ऑटो मिल गया। जब हमने वीडियो दिखाने के बाद उस व्यक्ति से पूछताछ की, तो उसने अपना अपराध स्वीकार कर लिया। वहीं, बच्ची की पहचान उसकी ड्रेस पर लिखे स्कूल के नाम से की। इस घटना से लड़की के माता-पिता सदमे में हैं। उन्होंने अभी तक औपचारिक शिकायत दर्ज नहीं कराई है।’

पुलिस निरीक्षक ने कहा, ‘भले ही माता-पिता ने शिकायत दर्ज नहीं कराई है, हमने खुद ही एफआईआर दर्ज कर ली है।’

जानने वाला था चालक
केंद्रे ने कहा कि जब हमने लड़की के माता-पिता को बुलाया तो वे हैरान रह गए क्योंकि ऑटो चालक उन्हें जानता था और वह लड़की को रोजाना उसके स्कूल ले जाता था। उन्होंने अभिभावकों से अपने किशोर बच्चों के व्यवहार पर कड़ी नजर रखने का भी आग्रह किया। इंस्पेक्टर ने इन मामलों में शिकायत दर्ज कराने की सलाह भी दी।

E-Magazine