अमेरिका और मिस्र ने हमास-इजरायल से अपने रुख में बदलाव लाने का किया आह्वान

काहिरा, 10 मई (आईएएनएस/डीपीए)। हमास और इजरायल के बीच युद्ध विराम और बंधकों की रिहाई के समझौते को लेकर काहिरा में हुई बातचीत बेनतीजा रही। इसके बाद अब मिस्र और अमेरिका ने दोनों पक्षों से अपने रुख में बदलाव लाने का आह्वान किया है।

मिस्र के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने शुक्रवार को बताया कि मिस्र के विदेश मंत्री समेह शौकरी और अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने गुरुवार रात फोन पर बातचीत के दौरान दोनों पक्षों से अपने रुख में बदलाव लाने और समझौते तक पहुंचने के लिए आवश्यक प्रयास करने का आग्रह करने के महत्व पर सहमति व्यक्त की।

बता दें कि इजरायल और हमास सीधे तौर पर बातचीत करने के लिए तैयार नहीं है। ऐसे में अमेरिका, कतर और मिस्र मध्यस्थ के रूप में कार्य कर रहे हैं।

शौकरी और ब्लिंकन ने शरणार्थियों से भरे गाजा के शहर रफा में सुरक्षा और मानवीय स्थिति पर चर्चा की।

प्रवक्ता ने एक बयान में कहा, मिस्र के अधिकारी ने रफा में इजरायली सैन्य अभियानों के नतीजों के प्रति चेतावनी दी।

इस हफ्ते की शुरुआत में, इजरायल ने रफा सीमा पार के फिलिस्तीनी हिस्से पर नियंत्रण कर लिया, जिससे भारी आबादी वाले गाजा पट्टी में मानवीय सहायता वितरण रोक दिया गया।

इजरायल और हमास के बीच चल रहे युद्ध के कारण विस्थापित हुए हजारों फिलिस्तीनियों के लिए रफा आखिरी ठिकाना है। इजरायल इस शहर को हमास के आखिरी गढ़ के रूप में देखता है।

–आईएएनएस

पीके/एसकेपी

E-Magazine