दिल्ली में पीयूसीसी उल्लंघनों के मामलों में पिछले साल की तुलना में 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी

नई दिल्ली, 12 मई (आईएएनएस)। दिल्ली में 1 जनवरी से 30 अप्रैल 2024 के बीच पिछले साल की समान अवधि की तुलना में प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र (पीयूसीसी) से संबंधित उल्लंघनों में 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक, इस अवधि के दौरान पीयूसीसी उल्लंघनों के कुल 1,01,164 मामले दर्ज किए गए। जबकि, 2023 में इसी समय सीमा में 78,169 मामले दर्ज हुए थे।

उल्लंघन में बढ़ोतरी दिल्ली में वाहन प्रदूषण की लगातार चुनौती को भी उजागर करती है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने मॉडल टाउन, करोल बाग, नजफगढ़, द्वारका, पंजाबी बाग, तिलक नगर सहित टॉप 10 ट्रैफिक सर्किलों का व्यापक विश्लेषण किया है, जहां 2024 में सबसे ज्यादा चालान काटे गए थे।

इस जांच में उन क्षेत्रों को चिन्हित किया गया है, जहां इस तरह के ट्रैफिक उल्लंघन सबसे ज्यादा बार होते हैं। इन क्षेत्रों की पहचान करके, ट्रैफिक नियमों के पालन को बढ़ावा देने के लिए अहम उपायों को लागू किया जा सकता है।

अधिकारी ने आगे कहा कि पीयूसीसी नियमों की कड़ाई से निगरानी और लागू करके, ट्रैफिक पुलिस का लक्ष्य मोटर चालकों के बीच प्रचार मानकों के अनुपालन के कल्चर को विकसित करना है।

–आईएएनएस

एफजेड/एबीएम

E-Magazine