यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में इस बार आईएएस के 180, आईएसफस के 37, आईपीएस 200 की वैकेंसी, पढ़े पूरी ख़बर

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2023 के तहत निकलीं 1105 वैकेंसी का पोस्ट वाइज व कैटेगरी वाइज ब्रेकअप जारी कर दिया गया है। केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय की ओर से जारी नोटिस के मुताबिक इस बार आईएएस के 180, आईएसफस के 37, आईपीएस 200, आईआरएस (सी एंड आईटी) के 109 और आईआरएस (आईटी) के 186 पद हैं। आईएएस पदों में 73 पद अनारक्षित है जबकि 27 एससी, 13 एसटी, 49 ओबीसी और 18 ईडब्ल्यूएस के लिए आरक्षित हैं। आईपीएस में 80 पद अनारक्षित हैं जबकि 32 पद एससी, 13 एसटी, 55 ओबीसी और 20 ईडब्ल्यूएस के लिए आरक्षित हैं। 

इस बार 1105 पदों पर भर्ती निकली है जो पिछले सात सालों में सबसे अधिक है। पिछले साल 1101 पद थे। 2021 में 712, 2020 में 796, 2019 में 896, 2018 में 782, 2017 में 980, 2016 में 1079 , 2015 में 1164, 2014 में 1364 पद थे। इस भर्ती परीक्षा में हर साल करीब 8 से 9 लाख युवा बैठते हैं। 

सिविल सेवा प्रीलिम्स परीक्षा 28 मई 2023 को होगी। 

इस परीक्षा के माध्यम से भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) और भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) सहित अन्य अखिल भारतीय सेवाओं के लिए अफसरों का चयन किया जाएगा। यूपीएससी सिविल सेवा की चयन प्रक्रिया में प्रीलिम्स एग्जाम, मेन एग्जाम और इंटरव्यू के चरण होते हैं।

पहले आओ, पहले पाओ के आधार पर मिलेंगे एग्जाम सेंटर
आयोग ने कहा है कि प्रत्येक परीक्षा केंद्र में अभ्यर्थियों की संख्या सीमित (चेन्नई, दिसपुर, कोलकाता व नागपुर को छोड़कर) है। एग्जाम सेंटर फर्स्ट एप्लाई फर्स्ट अलॉट के आधार पर आवंटित किए जाएंगे। यानी आप जितना पहले आवेदन करेंगे, मनचाही एग्जाम सेंटर  सिटी पाने के उतने ही ज्यादा चांस रहेंगे।