यूजीसी-नेट पेपर लीक मामले में CBI ने की संदिग्ध से पूछताछ

सीबीआई ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (यूजीसी-नेट) का प्रश्नपत्र लीक होने के मामले में उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में शनिवार को एक व्यक्ति से पूछताछ की।

अधिकारियों ने बताया कि प्रश्नपत्र का एक हिस्सा ‘टेलीग्राम’ पर पोस्ट करने वाले संदिग्ध को कुशीनगर जिले के पडरौना कोतवाली ले जाया गया, जहां सीबीआई की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा उससे पूछताछ कर रही है। ऐसा माना जा रहा है कि संदिग्ध ने राजस्थान के कोटा में नेट की कोचिंग की थी।

सीबीआई ने दर्ज किया था केस

सीबीआई ने केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के निर्देश पर यूजीसी-नेट का प्रश्नपत्र लीक करने के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ गुरुवार को प्राथमिकी दर्ज की थी। यूजीसी-नेट के माध्यम से जूनियर रिसर्च फेलोशिप, सहायक प्रोफेसर के रूप में नियुक्ति और भारतीय विश्वविद्यालयों एवं कालेजों में पीएचडी में प्रवेश के लिए अभ्यर्थियों की पात्रता निर्धारित की जाती है।

18 जून को हुई थी परीक्षा

इस साल देशभर में यूजीसी-नेट का आयोजन 18 जून को दो पालियों में किया गया था। शिक्षा मंत्रालय ने इसके अगले दिन एनटीए द्वारा आयोजित परीक्षा को रद्द करने का आदेश दिया था। इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपी गई है। भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र ने यूजीसी को जानकारी दी थी कि परीक्षा का प्रश्नपत्र डार्कनेट पर उपलब्ध है और इसे पांच-छह लाख रुपये में छात्रों को मैसेजिंग प्लेटफार्म के जरिये बेचा गया है।

E-Magazine